DDoS अटैक क्या है और काम कैसे करता है? हिंदी जानकारी

DDoS Attacks के बारे में तो शायद आपने सुना ही होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि DDoS अटैक क्या है, ये काम कैसे करता है और इन हमलों को कैसे रोका जा सकता है?? अगर नहीं तो कोई बात नहीं, क्योंकि इस आर्टिकल में आपको इसकी पूरी जानकारी मिलने वाली है। What is a DDoS Attack in Hindi.

DDoS Attack

अगर आप एक ब्लागर है तो आपको DDoS Attack और DDoS Attack Protection के बारे में जरूर पता होगा और आपको यह भी पता होगा कि यह Webmaster के लिए कितनी बड़ी समस्या है।

आए दिन हजारों वेबसाइट DDoS Attacks की वजह से Down हो जाते हैं, यहां तक कि इन DDOS Attackers ने  जैसी Websites को भी नहीं छोड़ा है।

तो सोचिए एक Non-techy blogger के लिए अपनी वेबसाइट को DDoS हम लोग से Protect करना कितना मुश्किल काम होगा।

चलिए पहले हम जान लेते हैं कि आखिर यह है क्या चीज़ और यह इतना बड़ा खतरा क्यों है? DDoS Kya Hai? Kaise Kaam Karta Hai?

विषय-सूची

  • DDoS Attack क्या है?
    • DDoS अटैक कैसे काम करता है?
  • DDoS Attacks से कैसे बचा जा सकता है?
    • निष्कर्ष,

DDoS Attack क्या है?

DDoS attack एक प्रकार का साइबर हमला (Cyber attack) है जो WordPress Hosting Server पर many request भेजकर उसे overload करता है।

DDoS की Full Form है, Distributed Denial of Service attack. यानी कि है DoS  (Denial of Service) हमलो का विकसित रूप है।

इन हमलों के तहत हमलावर लक्षित वेबसाइट के सर्वर पर DNS और HTTP requests भेज कर उसे लोड करने का प्रयास करते हैं।

मतलब कि यह किसी target website के server पर हमला करके उसके सामान्य ट्रैफिक को बाधित कर उसे down करने का एक दुर्भाग्यपूर्ण प्रयास है।

इन हमलों के तहत किसी वेबसाइट के hosting server पर traffic की बाढ़ लाकर उस के बुनियादी ढांचे को भारी नुकसान पहुंचाया जाता है। इसमें server down हो जाता है, कई बार तो server crash भी हो जाता है।

अब मान लीजिए, आपकी वेबसाइट ऐसे server पर host है जो realtime में केवल 100-500 request ही handle कर सकता है और उसकी data transfer करने की monthly limit 500GB या 1TB है।

ऐसे में Hackers को आपकी site को hack करना होगा तो वे DDoS attack करके आपकी साइट के server पर per second 1,000+ request send करेंगे, और आपकी महीने की data transfer limit को कुछ ही समय में over कर देंगे।

मतलब साफ है, दुनिया के सबसे ज्यादा Popular blogging platform WORDPRESS के लिए ddos attack एक बहुत बड़ी समस्या है।

चलिए जानते हैं कि ये कार्य कैसे करता है?

DDoS अटैक कैसे काम करता है?

इस प्रकार के attack में विभिन्न computer and devices का उपयोग करके targeted server पर हजारों रिक्वेस्ट भेज कर website को down किया जाता है।

ये विभिन्न क्षेत्रों में फैली हुई machines या servers का लाभ उठाकर एक network बनाते हैं जिसे botnet कहा जाता है। प्रत्येक affected मशीन एक bot के रूप में लक्षित सर्वर पर हमला करती है।

इस प्रकार से ये कुछ ही समय में target server पर लाखों request send करते हैं, जिसे की site server झेल नहीं पाता और crash हो जाता है, फिर site काम करना बंद कर देती है।

ddos attacks

दुनिया की सबसे बड़ी और लोकप्रिय वेबसाइट Amazon, Netflix, PayPal, Visa और Github (popular coding website) भी इसकी चपेट में आ चुकी है।

2003 में  DDoS attacks की समस्या बहुत कम थी लेकिन धीरे धीरे ये बढ़ती गई और 2018 में 2003 की तुलना में 90% बढ़ गई, मतलब कि अब बहुत ज्यादा अटैक्स होने लग गए हैं।

अगर आप चाहते हैं कि आपकी वेबसाइट पर इस प्रकार की समस्या ना हो तो अब आपकी वेबसाइट के लिए DDoS Protection जरूरी हो गया है।

DDoS Attacks से कैसे बचा जा सकता है?

DDos attacks से बचने के लिए आपको कुछ बुनियादी सुरक्षा सर्वोत्तम प्रथाओं के साथ अपनी वर्डप्रेस वेबसाइट को ddos attacks के against protect करना होगा।

सबसे पहले तो आपको अपने Router को सुरक्षित करना है इसके लिए आप VPN का इस्तेमाल कर सकते हैं ताकि कोई भी आपके IP Address को target ना कर सके।

उसके बाद आपको अपनी website को DDoS attacks से बचाने के लिए कुछ security terms इस्तेमाल करनी होंगी। जैसे कि per second request limit set करना।

ताकि कोई भी आपकी वेबसाइट के सर्वर पर per second limit से ज्यादा request send ना कर पाए और जब ज्यादा रिक्वेस्ट send ही नहीं होंगी तो server overload भी नहीं होगा।

लेकिन ये कोई आसान काम नहीं है क्या बड़ी आसानी से request limit set कर पाओगे, एक नौसिखिया ब्लॉगर (newbie blogger) के लिए तो यह है बहुत मुश्किल काम है।

इसीलिए DDoS attacks अपनी साइट को सुरक्षित करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप DDoS attack protection के लिए WAF (Website Application Firewall) सर्विस Activate करें।

यहां कई ऐसी website और company है जो Free और Premium Firewall सेवा प्रदान करती हैं। लेकिन उन सभी में CloudFlare, Sucuri.net की service best है।

दरअसल, Cloudflare दुनिया की सबसे बड़ी Free CDN & Firewall प्रदान करने वाली कंपनी है और Sucuri को WordPress Security के लिए Firewall Leader माना जाता है।

इसके अलावा आप कुछ और Important security tips फॉलो करके भी अपनी WordPress site को DDoS हमलों से secure कर सकते हैं। जैसे कि,

Process for mitigating a DDoS Attacks:

  • Use Latest version of WordPress
  • Update Theme 7 Plugins
  • Don’t use unwanted plugins
  • Block XML-RPC
  • Disable Bruce-force attacks
  • Use Security Plugins
  • Contact your Web Hosting Supprt

आप चाहे तो DDoS protection के लिए Sucuri security, Wordfence security जैसे security plugins कब इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन इन्हें setup करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है।

निष्कर्ष,

इस आर्टिकल में हमने DDoS attack क्या है और यह काम कैसे करता है, DDoS attacks से कैसे बचें? इत्यादि के बारे में विस्तार से जाना। उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी।

क्योंकि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको DDoS attacks के बारे में सब कुछ मालूम हो गया होगा। साथ ही अब आप समझ गए होंगे कि यह क्या समस्या है और इसका क्या समाधान है।

अपनी वर्डप्रेस वेबसाइट को सुरक्षित करने के लिए हमारे ये article भी जरूर पढ़ें,

  • वर्डप्रेस वेबसाइट है क्यों होती है – 10 बड़ी वजह
  • WordPress Blog बनाने के बाद क्या करें – 50 Jaruri Tips

अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आए तो इसे अपने दोस्त ब्लॉगर्स के साथ भी जरूर शेयर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *