Bounce Rate Kam Kaise Kare (20 Best Ways)


क्या आपकी वेबसाइट की Bounce Rate बहुत अधिक है? और क्या आप अपनी Bounce Rate कम करना चाहते हैं?

बहुत से लोग मानते हैं कि Bounce Rate Google ranking factors में से एक है। यह Google को आपकी साइट की Quality के बारे में दिखाता है।

आज इस आर्टिकल में, मैं आपको Bounce Rate कम करने के बारे बताऊंगा।

लेकिन Bounce Rate Reduce करने के तरीकों को बताने से पहले, मैं बताऊंगा कि Bounce Rate क्या है, एक अच्छी Bounce Rate कितनी होनी चाहिए और इसकी Calculate कैसे की जाती है।

Bounce Rate क्या है?

जब कोई यूजर आपकी साइट के किसी भी पेज पर आता है और अन्य पेज पर जाए बिना आपक साईट को Leave कर देता है, तो यह एक Bounce है। Bounce Rate उन Users का प्रतिशत है जो आपकी वेबसाइट पर आते हैं और दूसरे पृष्ठ पर जाए बिना उसी पेज से पर बाहर निकल जाते हैं।

एक अच्छा Bounce Rate कितना होना चाहिए

जितना कम होगा उतना बेहतर होगा!

लेकिन आप जानना चाहेंगे कि कितना? खैर, वेबसाइट के प्रकार से Bounce Rate भिन्न होती है:

  • 80%+ is very bad
  • 70 – 80% is poor
  • 50 – 70% is average
  • 30 – 50% is excellent

आमतौर से, एक ब्लॉग की bounce rate अधिक होती है। कारण, विजिटर पहले कंटेंट को स्कैन करते हैं और यदि उनको अपनी जरूरत की जानकारी नहीं मिलती है, तो वे ब्लॉग से बहर निकल जाते है।

Bounce Rate कैसे पता करें

आप Google Analytics अकाउंट में लॉग इन करके अपनी वेबसाइट की Bounce Rate जांच कर सकते हैं। जैसा कि आप स्क्रीनशॉट में देख सकते है।

  • Behavior >> All Pages >> Bounce Rate
  • Acquisition >> Channels >> Bounce Rate
  • Acquisition >> Source/Medium >> Bounce Rate
  • Acquisition >> AdWords >> Campaigns >> Bounce Rate
Bounce Rate Reduce Kaise Kare

Bounce Rate Reduce कैसे करें

यह बहुत अच्छी बात है कि आप अपनी Site search performance को बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। लेकिन आपको अपने Bounce Rate को कम रखने पर भी ध्यान देना चाहिए।


High bounce rate, जिससे पता चलता है कि आपकी रणनीति में कुछ गलत है जिससे आप Visitors को आकर्षित नहीं कर पा रहे है या Visitors को आपकी साइट पर अच्छा User experience न मिल पा रहा हो।

Bounce Rate decrease करने के लिए नीचे मैंने 20 तरीको के बारे में बताया है:

1. अपनी कंटेंट की Quality में सुधार करें

Bounce rate अधिक होने का सबसे बड़ा कारण – Quality content की कमी

यदि आपकी कंटेंट उपयोगी नहीं होगी, तो विजिटर आपकी साइट को तुरंत Leave कर देंगे।

हमेशा Unique और Quality कंटेंट लिखें। साथ ही, आपका आर्टिकल दिलचस्प होने चाहिए ताकि लोग आपके कंटेंट को आनंद के साथ पढ़ें।

Quality Content लिखने के लिए Quick Tips:

  • कंटेंट की लंबाई – आपका आर्टिकल कम से कम 1000 शब्द होने चाहिए और अच्छी तरह से समझाया जाना चाहिए। लंबी सामग्री खोज इंजन में अच्छी तरह से रैंक करती है।
  • Keyword Stuffing न करें – यह आपको कंटेंट को unnatural बनाता है और रीडर पर खराब User experience डालता है। अपनी कंटेंट में keyword density 1.5% – 2% रखें। इसके अलावा, अपनी कंटेंट में फोकस कीवर्ड के साथ रिलेटेड कीवर्ड का भी उपयोग करें।
  • Catchy Title लिखें – आर्टिकल लिखने के बाद, अपने टाइटल को अच्छी तरह से ऑप्टिमाइज़ करें। क्योंकि 50% से 60% से अधिक लोग पहले पोस्ट का टाइटल देखते हैं और फिर उस पर क्लिक करते हैं। हमेशा टाइल में अपना फोकस कीवर्ड add करें।
  • Meta Description को ऑप्टिमाइज़ करें – यह आपके ब्लॉग पोस्ट का संक्षिप्त विवरण है जो सर्च रिजल्ट में टाइटल के नीचे दिखाई देता है। यह आपके ब्लॉग पोस्ट पर CTR बढाने में मदद करता है। इसमें भी अपनी फोकस कीवर्ड add करें।
  • पैराग्राफ को छोटा रखें – लंबे और मोटे पैराग्राफ रीडर को डराते हैं। रीडर short and clean paragraphs अधिक पसंद करते है। इसलिए अपने पैराग्राफ को हमेशा छोटा रखने की कोशिश करें।

2. अपनी वेबसाइट को फ़ास्ट करें

Fast loading विजिटर को बेहतर User experience देता है।

कोई भी slow loading websites पर विजिट करना पसंद नहीं करता है। यदि आपकी साइट धीरे-धीरे लोड होती है, तो विजिटर तुरंत आपकी साइट को छोड़ देगा। और परिणामस्वरूप, यह आपकी Website bounce rate को बढ़ा देगा।


इसके अलावा, Speed एक Google ranking factor है । जिसके कारण फ़ास्ट लोडिंग साइट गूगल सर्च में अच्छी रैंक करती है।

इसीलिए अपनी साइट की लोडिंग स्पीड में सुधार करें। वेबसाइट लोडिंग स्पीड को बेहतर बनाने के लिए यहां Quick tips दिए गए हैं

  • PHP 7.2 में upgrade करें
  • अपनी Image size को Optimize करें
  • केवल उपयोगी plugins को रखें
  • Unwanted media को Delete करें
  • CSS and JS Files को Minify करें
  • अच्छी Cache plugin का उपयोग करें
  • Redirects को Minimize करें
  • Lightweight theme का उपयोग करें।
  • CDN का उपयोग करें।
  • अच्छे वेब होस्ट का उपयोग करें।

यहाँ एक डिटेल गाइड है – 18 Ways WordPress Blog Ki Loading Speed Kaise Badhaye

3. अपने ब्लॉग को Clean और Simple रखें

अपने ब्लॉग के डिजाइन को सरल और साफ रखें। रंगीन साइट पाठक का ध्यान भटकाती है। अपने ब्लॉग / वेबसाइट के लिए एक clean और responsive थीम सेलेक्ट करें।

इसके अलावा, सुनिश्चित करें कि fonts बहुत छोटे नहीं हैं। लोग fonts पर ज्यादा फोकस नहीं करेंगे। बस वे आपके ब्लॉग से बाहर निकल जाएंगे (कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपका कंटेंट कितना अच्छा है)। ऐसे फॉन्ट का इस्तेमाल करें जिसे विजिटर आसानी से स्कैन कर सके।

यदि आप अपने body के font size को बदलना चाहते हैं, तो आप इसे theme के style.css पर जाकर बदल सकते हैं। अन्यथा, वर्डप्रेस कस्टमाइज़र के CSS section में बस निम्नलिखित कोड जोड़ें।

body {
font-size: 18px;
}

4. Related Posts का उपयोग करें

यदि आप विजिटर को अपनी साइट पर लंबे समय तक रखना चाहते हैं, तो Related Posts इसमें आपकी काफी मदद कर सकते हैं।

Related Posts अक्सर कंटेंट के अंत में display किये जाते हैं।

यदि आप एक वर्डप्रेस यूजर हैं, तो वर्डप्रेस रिपॉजिटरी में कई प्लगइन्स उपलब्ध हैं जो आपकी साइट पर Related Posts जोड़ने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

5. अपनी साइट पर Broken Links को ठीक करें

Broken links user experience को बहुत प्रभावित करते है। इन्हें आप फिक्स करके bounce rate को reduce कर सकते है और विजिटर के user experience को भी बेहतर कर सकते है।

जब आप अपनी वेबसाइट के किसी भी पेज move कर देते हैं या डिलीट कर देते हैं, तो Broken link की समस्या उत्पन्न होती है। जब विजिटर ऐसे लिंक पर क्लिक करते है, तो उन्हें 404 page not found error दिखाई देता है।

लेकिन चिंता न करें, WordPress.org में एक मुफ्त Broken Link Checker plugin है जो आपके ब्लॉग पर Broken links को fix करने में मदद करता है। साथ ही यह प्लगइन automatically Broken Link के लिए ‘nofollow’ टैग सेट करता है ताकि सर्च इंजन उन्हें follow न करें।

6. External Links को New Tabs/Windows में Open करें

आप दूसरी वेबसाइट से लिंक करते हैं – यह बहुत अच्छा है। यह आपकी कंटेंट को अधिक उपयोगी बनाता है। इसके अलावा, यह सर्च इंजन को बेहतर समझने में मदद करता है कि कंटेंट किस बारे में है।

High-quality external links से लिंकिंग करना SEO के लिए फायदेमंद है। लेकिन  यदि आप उन्हें New Tabs/Windows में Open नहीं करते हैं, तो विजिटर आपकी साइट छोड़ देंगे।

इसलिए हमेशा नए टैब / विंडो में External लिंक ओपन करें। यह रणनीति आपकी वेबसाइट की bounce rate को काफी हद तक कम करने में मदद करती है। यहाँ एक गाइड है – WordPress Me External Links New Window Me Open Kaise Kare

7. Internal Link करें

Internal Linking न केवल आपकी website SEO और pageviews में सुधार करता है, बल्कि यह विजिटर के लिए आपकी कंटेंट को अधिक उपयोगी बनाता है और बाउंस रेट को भी कम करने में मदद करता है। एक ही डोमेन पर एक पेज को दूसरे से जोड़ना Internal linking कहलाता है।

अपनी कंटेंट में कम और और relevant लिंक जोड़ें। बहुत अधिक और irrelevant लिंकिंग वास्तव में आपके SEO और Bounce rate पर ख़राब प्रभाव डाल सकते है।

8. Cross-Browser Compatible की जाँच करें

अपनी साइट के लिए Cross-Browser Compatible की जाँच करें। यह बहुत महत्वपूर्ण है। मान लीजिये आपका पसंदीदा ब्राउज़र क्रोम है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपके विज़िटर उसी का उपयोग कर रहे हैं।


यदि आप इंटरनेट एक्सप्लोरर में अपनी साइट खोलते हैं, तो आपकी साइट Broken दिखाई देगी। यहां नीचे मैंने दो टूल बताये हैं जिनका उपयोग करके आप यह जांच सकते हैं कि आपकी साइट सभी ब्राउज़र में बहुत अच्छी लगती है।

9. अपनी साइट को Responsive बनाएं

क्या आपकी साइट Responsive है? जब विजिटर अपने मोबाइल से आपकी साइट पर आते हैं, तो क्या यह उनके मोबाइल में परफेक्ट दिखती है?

यदि आपकी साइट मोबाइल में perfectly दिखाई नहीं देगी, तो विजिटर आपकी साइट को तुरंत छोड़ देंगे। इससे आपका बाउंस रेट बढ़ जाएगा। यहाँ एक गाइड है – WordPress Website Mobile-Friendly Kaise Banaye

आपकी साइट mobile friendly है या नही इसे चेक करने के लिए आप गूगल द्वारा developed Mobile Testing Tool का उपयोग कर सकते है। यदि आपकी साइट mobile friendly नही है, तो आपको अपनी साइट पर एक Responsive WordPress theme इनस्टॉल करने की जरूरत है।

10. अपनी साइट पर Ads Carefully दिखाए

यदि आप अपनी साईट पर Ads लगाये हुए है, तो उन्हें सही स्थान पर रखने का प्रयास करें।

लेकिन कई साइटें पैसा बनाने के लिए बहुत सारे Ads दिखाती हैं जो उनकी साईट को Slow करती है और रीडर का ध्यान भटकती है – खासकर popup ads। यह bounce rate को बहुत प्रभावित करता है।

यदि आप अपनी साइट पर popup ads का उपयोग करते हैं, तो यह विजिटर को अन्य URL पर redirectकरता है। और ऐसे Ads विजिटर बिलकुल पसंद नहीं करते हैं।

11. Proper Heading Tags का उपयोग करें


हेडिंग टैग आपको एक Readable blog post create करने में मदद करता है। मान लीजिये आपके पास एक ब्लॉग पोस्ट है जिसकी लंबाई 5000-6000 शब्द है, लेकिन ठीक से Heading Tags का उपयोग नहीं किया है, तो विजिटर को इसे पढ़ना मुश्किल लगेगा।

H1 tag सर्च इंजन को यह समझने में मदद करता है कि आपका पेज किस बारे में है और आपकी रैंकिंग को Boost करता है। लेकिन कभी भी H1 टैग को एक से अधिक बार उपयोग न करें।

कई ऐसी वर्डप्रेस थीम हैं जो टाइटल के लिए H1 टैग का उपयोग नहीं करते हैं। यदि आप अपने ब्लॉग या website के लिए ऐसी किसी थीम का उपयोग करते हैं, तो आपको अपने टाइटल के लिए H1 टैग का उपयोग करें।

12. आर्टिकल के लिए Images का उपयोग करें

एक इमेज एक हजार शब्द बोलती है। और visitors को वेबसाइट पर अधिक समय तक रोकें रखता है। यदि आपकी कंटेंट बहुत लंबी है (4,000 शब्द), तो इसमें इमेज का उपयोग करें ताकि आगंतुक bore न हों।

लेकिन एक बात मैं कहना चाहूंगा, आप Google Images का उपयोग नहीं कर सकते। वे Copyrighted हो सकते है और बाद में कॉपीराइट की समस्याएं पैदा कर सकते हैं।

मार्केट में कई सारी वेबसाइट है (FreeDigitalPhotos, MorgueFile, Pixabay, Pexels) जो Free stock images offer करती है।

अपने कंटेंट के लिए high quality images का उपयोग करें और उन्हें अपलोड करने से पहले compress और resize करना न भूलें। यहाँ एक गाइड है – Image Optimize Kaise Kare

13. अपनी साईट में Search Button Add करें

यदि कोई विज़िटर आपकी साइट पर आता है और उसे वह आर्टिकल नहीं मिलती है जो वह खोज रहा था, तब सर्च बटन वह अंतिम चीज़ है जिसे विज़िटर आपकी साइट छोड़ने से पहले आज़माएगा।

डिफ़ॉल्ट रूप से, वर्डप्रेस एक सर्च विजेट प्रदान करता है जिसे आप अपने footer या साइडबार में रख सकते हैं। इसके अलावा, कई थीम इनबिल्ट सर्च बटन प्रदान करते हैं जिसे आप अपने मेनू आइटम में दिखा सकते हैं।

14. सही Visitors को Target करें

जब आपको गलत विजिटर मिलेंगे, तो जाहिर है कि Bounce rate अधिक होगी। कारण वे आपके वेबपेज पर आयेंगे हैं और दूसरे पेज पर जाए बिना या कंटेंट को पढ़े बिना साईट से Exit हो जायेंगे।

अतः Bounce rate reduce करने के लिए सही विजिटर को आकर्षित करना बहुत महत्वपूर्ण है। और इसमें, कीवर्ड ऑप्टिमाइज़ेशन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

उदाहरण के लिए, यदि आप जूते के लिए अपनी पोस्ट ऑप्टिमाइज़ करते हैं, तो जूते से संबंधित कीवर्ड का उपयोग करें। इससे, जूते की सर्च करने वाले विजिटर रिजल्ट से खुश होंगे। लेकिन, इसे मोज़े और जूते फीते के लिए ऑप्टिमाइज़ न करें कि आप इन्हें भी Sell करते है। इससे बाउंस रेट बढ़ जायेगा।

15. वीडियो का उपयोग करें

वीडियो bounce rate को कम करने के लिए शक्तिशाली औजार हैं।

विडियो Text या इमेज की तुलना में अधिक ध्यान आकर्षित करते हैं। आप अपने ब्लॉग पोस्ट की वीडियो बना सकते हैं और उसे अपनी ब्लॉग पोस्ट में add कर सकते है। यह आपके bounce rate को बहुत कम कर देगा।

16. अपने Old कंटेंट को अपडेट करें

यदि आपके पास old high-traffic posts हैं, तो इसे fresh information और images के साथ अपडेट करें। यह आपकी वेबसाइट की Bounce rate को कम करता है। यहाँ एक गाइड है – Old Blog Post ko Update Kaise Kare

नए कीवर्ड और latest information और images के साथ अपने Old कंटेंट को अपडेट करें। फिर उन्हें अपने नए रीडर और सोशल मीडिया साइट पर शेयर करें।

17. चलाकी के साथ पॉप-अप का उपयोग करें

पॉप-अप (opt-in forms या अन्य) विजिटर पर खराब user experience बनाते हैं। लेकिन, बहुत सारे यूजर हैं जो पॉपअप से अपनी साइट भर देते हैं जो उनकी Bounce Rate को प्रभावित करता है। कारण Users इसे बिल्कुल पसंद नहीं करते हैं और शायद आपकी साइट को leave कर सकते है।

लेकिन email list grow करने के लिए ऑप्ट-इन फॉर्म बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए इसे अपनी साइट या ब्लॉग पर चतुराई से इस्तेमाल करें। इसके अलावा, इसके लिए एक टाइमर सेट करें।

और यहां तक ​​कि शुरुआती दिनों में भी मैंने अपनी साइट पर बहुत सारे पॉपअप का उपयोग किया है। परिणामस्वरूप, मेरी साइट की bounce rate बहुत बढ़ गई थी। लेकिन जब मैंने इसे remove किया, तो bounce rate 89% से घटकर 68% हो गई।

वर्तमान में, मैं अपनी साइट पर किसी भी पॉपअप का उपयोग नहीं करता हूं। आप देख सकते हैं।

18. अपनी साइट को HTTPS पर Move करें

Chrome 68 और इसके बाद के version सभी non-HTTPS sites को “Not Secure” के रूप में चिह्नित कर रहा हैं।

Bounce Rate Reduce Kaise Kare

तो यह भी एक कारण हो सकता है, विजिटर आपकी साइट को leave कर दे रहे है। इसलिए HTTPS बहुत महत्वपूर्ण है!

यदि आप अभी भी अपनी साइट पर HTTP का उपयोग कर रहे हैं, तो उसे तुरंत HTTPS में move करें। यहाँ एक गाइड है – WordPress Site Ko HTTP Se HTTPS Par Move Kaise Kare

19. कंटेंट के लिए “Table of Contents” बनाये

यह विजिटर का ध्यान आकर्षित करता है और आपकी कंटेंट के बारे में quick जानकारी दिखाता है।

Bounce Rate Reduce Kaise Kare

वर्डप्रेस में कई मुफ्त प्लगइन्स उपलब्ध हैं जिनका उपयोग करके आप अपनी साईट पर Table of Contents add कर सकते हैं।

20. Black Text और White Background का उपयोग करें

अपने ब्लॉग के text और background के लिए रगीन colour का उपयोग न करें। कारण यह आपके बाउंस रेट को hurt करेगा। हालाँकि, यह देखने में अच्छा लगेगा लेकिन रीडर को पसंद नहीं आएगा।

जब कोई विजिटर किसी ब्लॉग पर जाता है, तो वह एक साफ और सरल ब्लॉग पसंद करता है। इसलिए, अपने Text के लिए हमेशा Black रंग और Background के लिए White रंग का उपयोग करें।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में, मैंने आपको Bounce rate कम करने के 20 तरीको के बारे में बताया हैं। लेकिन high-quality content के बिना, आप इसे कम नहीं कर सकते।

अगर मुझेसे कोई रणनीति छुट गयी हो, तो कमेंट में बताएं।

छोटा सा निवेदन, अगर यह आर्टिकल आपके लिए मददगार साबित हुई है, तो इसे शेयर करना न भूलें!

आपको इसे भी पढना चाहिए:

  • SEO Kaise Kare [22 SEO Tips in Hindi]
  • Website Ki Traffic Kaise Badhaye
  • Keyword Research Kaise Kare
  • High-Quality Backlinks Kaise Banaye

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *