5 Things to Make Life Happier | ये पांच चीजें जरुरी है अपनी ज़िन्दगी ख़ुशी ख़ुशी जीने के लिए

कितना अच्छा होता अगर ज़िन्दगी से सारी परेशानियाँ ख़तम हो जाती और सबकी ज़िन्दगी में बस खुशियाँ ही खुशियाँ भर जायें ।

हम सभी दिन-रात अपनी और अपनों की लाइफ को आसान बनाने के लिए जूझते रहते हैं, हर वो कोशिश करते हैं जो हमें खुश रखें और इसी भागदौड़ में हमें पता ही नहीं चल पाता की हमारी ये छोटी सी ज़िन्दगी कब ऐसे ही दुनिया से लड़ते-झगड़ते ख़त्म हो गई ।

पैसा हमारी दुनिया की सबसे ताकतवर चीज है और पैसे की अहमियत को नकारा नहीं जा सकता है लेकिन इसके अलावा ऐसी कौन सी चीजें है जो आपकी ज़िन्दगी को शांत, आसान बनायेंगी और आपकी लाइफ अपनों के साथ हंसते – मुस्कुराते कट जायेगी ।

5 Simple ways to make your life happier

make your life happier in hindi

1. किसी के लिए अपने अच्छा किया उसे भूल जाइये

आपने किसके लिए क्या-क्या अच्छा किया है उसको जितने जल्दी हो सके भूल जाइये । इससे आपके अंदर अहंकार की भावना आ जाती है, जो कहीं ना कहीं आपके संबंधों पर असर डालता है, आप ऐसा सोचिये की आपने किसी के लिए कुछ अच्छा नहीं किया बल्कि भगवान ने आपसे करवाया है ।

इससे आप अपनी ज़िन्दगी को बहुत हद तक आसान बना लेंगे और जितनी आसान ज़िन्दगी है, वो उतनी ही खुशियों (Happiness) से भरी होती है ।

खुश रहिये सबको खुशी बाँटिये, भगवान को धन्यवाद कीजिये की उन्होंने आपको चुना है लोगो में खुशियाँ बांटने के लिए, लोगो के लिए अच्छा करने के लिए ।

अभी भूल जाइए जो भी आपने किसी के लिए अच्छा किया है जब ये गर्व जो की अहम है, यह अहम की भावना आपके मन से निकल जाएगी तो आप बहुत ही हल्का महसूस करेंगे अपने अन्दर, एक अलग ही तरह की खुशी (Happiness) आपको अपने शांत मन में महसूस होगी ।

हमेशा याद रखियेगा की, “नेकी कर, दरिया में डाल ।”

2. भूल जाइये किसी ने आपका कभी बुरा किया है

कितने बोझ हम लेकर चल रहे है अपने साथ कभी सोचिये, पल पल हमें कितना तनाव में डाल रहीं है ये सब बातें कि उसने मेरा बुरा किया, उसने ऐसा कर दिया, भुला दीजिये सब कुछ ।

अगर आप वाकई चाहते हैं कि आपकी लाइफ बस यूँ ही हंसते गाते मुस्कुराते हुए निकले तो माफ़ कर दीजिये हर किसी को जिसने कभी बुरा किया था आपके साथ ।

जैसे भगवान आपको माफ़ कर देते है आपकी गलतियों के लिए, आप भी सब कुछ भूल जाइये जो भी बुरा हुआ आपके साथ क्योंकि याद रख कर भी आप अपना ही नुकसान कर रहे होते हैं, अपने ही मन में जल रहे होते हैं ।

अभी बंद कर दीजिये सोचना हर उस बुरी चीज के बारे में जो आपके साथ हुई वो आपका भूतकाल था, वो निकल गया है, अपना आज मत बर्बाद कीजिये अपने बीते हुए कल के बारे में सोच कर । यह एक बहुत बड़ा कारण है हम सबके दुखी होने का ।

जरा सा अभी मुस्कुराइए और बस दिल से बोलिए कि कर दिया सबको माफ़ आपने, आपने सबको माफ़ कर दिया, समझ लीजिये भगवान ने आपको माफ़ कर दिया आपकी हर गलती के लिए ।

3. जीवन के लक्ष्य को पहचानें

“क्या साथ लेकर आये हो, क्या साथ लेकर जाओगे” इस बात को कभी ना भूलें की आपकी ज़िन्दगी का लक्ष्य (Goal) क्या है, जब आप अलविदा कहोगे इस दुनिया को तो क्या अपने पीछे छोड़ कर जाओगे । ये प्रश्न अपने आप से हमेशा पूछते रहें, ज़िन्दगी ऐसे जियें कि लोग आपकी मिसालें दें ।

अपने लिए तो आप जी ही रहे हैं ज़िन्दगी पर दूसरों के लिए भी अपना समय दें, लोगो की भलाई के लिए कभी पीछे ना हटें । इस बात को दिल में बनाये रखें कि आप यहाँ हमेशा नहीं रहने वाले, यकीन मानिए मौत का एहसास आपको हमेशा जिंदा बनाये रखेगा ।

कहीं ऐसा ना हो कि आपकी तिजोरियां जमीन में दफ़न ही रह जायें और आपका बुलावा आ जाये, अपने लिए तो हर कोई जीता है आपको अपने साथ-साथ सबके लिए भी जीना है ।

हम ज़िन्दगी भर इस दुनिया से लेने की कोशिश करते है, इसे छोड़ने से पहले ये हमारा फर्ज है की इसे कुछ देकर जायें । खुश रहें और खुशियाँ बांटे, बस इसी लिए हमे यहाँ इस धरती पर भेजा गया है ।

4. डर को भूल जायें

डर-डर कर जीना बंद करें । आपने देखा होगा की जो इंसान डर-डर कर जीता है वो कभी किसी भी चीज में सफल (Success) नहीं हो पाता, आप अपने सबसे अच्छे निर्णय अपने डर की वजह से नहीं ले पाते, आप जो काम सबसे अच्छे से कर सकते हैं, आपका डर आपको वो करने ही नहीं देता ।

डर-डर के जीना अभी से छोड़ दीजिये अपने आत्मविश्वास (Confidence) को बढाइये, अपने आप की और अपने डिसीजन्स की इज्जत करना सीखिए, मुकाबला करना सीखिए अपने डर से, नहीं तो पछतावे के अलावा और कुछ हाथ नहीं रह जायेगा ।

5. ज़िन्दगी को जीना सीखिए

ज़िन्दगी ख़ुशी ख़ुशी जीने के लिए आपको सबसे पहले ये सीखना होगा कि खुश कैसे रहा जाता है? और ये आपको बहुत अच्छे से सिखा सकता है एक छोटा बच्चा, एक छोटा बच्चा खुश रहता है क्योंकि उसे खुश रहने के लिए कोई बड़ी वजह नहीं चाहिए होती ।

आपके चेहरे पर हमेशा उदासी छाई रहती है, लोग आपको चिडचिडा बोलते हैं क्योंकि आपको छोटी-छोटी बातों से खुश रहना नहीं आता । हमें छोटी चीजों से खुश रहने की कला सीखने की जरुरत है, बिना किसी वजह के खुश रहना सीखना होगा ।

आप अपनी ज़िन्दगी सही से जी रहे हैं इसका अंदाजा आपकी ख़ुशी (Happiness) को देख कर लगाया जाता है इसलिए सिख लीजिये बिना वजह खुश रहना और दूसरों को भी बिना वजह खुश रखना ।

हम खुशियों को चीजों में ढूंढने की कोशिश करते हैं की अगर मेरे पास ये होता तो में बहुत खुश रहता/ रहती पर असल में खुशियाँ किसी चीज में नहीं है, यह एक एहसास है इस एहसास को आप किसी चीज में नहीं ढूंढ पाएंगे यह आपके अन्दर ही है ।

बाहर की दुनिया की चीजें आपको कुछ टाइम के लिए तो खुश कर देती हैं पर आपको समझने की जरुरत है की जो भी आप करते हैं, जो भी आपके लक्ष्य है, जो भी आपकी महत्वाकांक्षाएं (Ambitions) या जो भी आपकी डिजायर यानी इच्छाएं हैं, उन सभी का अंतिम लक्ष्य है की आपके जीवन में शांति हो , आपकी ज़िन्दगी में खुशियाँ (Happiness) हों ।

तो बस बेवजह खुश रहिये, बेवजह सबको खुश रखिये । ये हो गया तो समझ लीजिये आपका जीवन सफल (Successful) हो गया, ज़िन्दगी की मंजिल आपको मिल गई ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *