47 Blogging Tips in Hindi 2021


आज के दौर में ब्लॉगिंग एक ट्रेंड बन गया है। बहुत से लोग इसे बिज़नेस के रूप में उपयोग कर रहे हैं और लाखों कमा रहे हैं। इसीलिए बहुत से लोग ब्लॉगिंग शुरू करते हैं।

लेकिन ब्लॉगिंग में पैसा कमाना इतना आसान नहीं है। इसमें, आपको कई Rules को फॉलो करना पड़ता और धैर्य की भी आवश्यकता पड़ेगी।

आज इस आर्टिकल में मैं आपको 47 Best Blogging Tips के बारे में बताऊंगा जो आपके ब्लॉग को सफल बनाने में मदद करेंगे।

तो चलिए शुरू करते है…

Successful Blogging Tips in Hindi

यहां मैंने नए ब्लॉगर के लिए कुछ Blogging Tips and Tricks शेयर किया है जिन्हे फॉलो करने की जरूरत है।

WordPress.org पर अपना ब्लॉग बनाएँ

अपने ब्लॉग को self-hosted WordPress (WordPress.org) पर शुरू करें।

वर्डप्रेस के लिए हजारों थीम और प्लगइन्स उपलब्ध हैं जो आपके ब्लॉग को प्रोफेशनल बनाने में मदद करते हैं।

इसके अलावा, यदि आपके वर्डप्रेस ब्लॉग में कोई समस्या होती है, तो उन्हें ठीक करने के लिए इंटरनेट पर बहुत सारे ट्यूटोरियल आसानी से मिल जायेंगे।

Blogger Blog Ko WordPress Par Transfer Kaise Kare 301 Redirection Ke Sath

Google Search Console Tool को अपने ब्लॉग से कनेक्ट करें

अपना ब्लॉग बनाने के बाद, उसे Google Search Console में सबमिट करें। यह Google द्वारा डेवलप्ड एक बहुत अच्छा टूल है। इस टूल में, आप यह चेक कर सकते हैं कि आपका ब्लॉग Google में कैसा प्रदर्शन कर रहा है।


इसके अलावा, Google Search Console में आप अपने ब्लॉग की बहुमूल्य जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जैसे क्रॉल Crawl errors, Ranking Keyword, impressions आदि। यहाँ एक गाइड है – Google Search Console Use Kaise Kare Hindi

Sitemap सबमिट करें

सबसे पहले अपने ब्लॉग का Sitemap बनाएं। यहाँ एक गाइड है – WordPress Ke Liye XML Sitemap Kaise Banaye

Sitemap बनाने के बाद, Google Search Console डैशबोर्ड में ‘Sitemap’ पर क्लिक करें और अपने Sitemap के URL (sitemap_index.xml) के लास्ट पार्ट को पेस्ट करें और फिर सबमिट बटन पर क्लिक करें।

Multi-Topic Blog न बनाएं

अक्सर नए ब्लॉगर यह गलती करते हैं। यदि आप अपने ब्लॉग टॉपिक को चुनने में गलती करते हैं, तो आपको ब्लॉगिंग में सफलता नहीं मिलेगी।

ब्लॉगिंग शुरू करने से पहले, यह पता करें कि आपको कौन सा टॉपिक अधिक पसंद है और आप उस टॉपिक पर अच्छे से लिख ​​सकते हैं।

मैं आपको एक Single niche blog बनाने की सलाह दूंगा।

कारण, Single niche blog गूगल सर्च रिजल्ट में अच्छी रैंक करते हैं और वे जल्दी ही सफलता प्राप्त कर लेते हैं।

जबकि गूगल multi-topic blog को नहीं समझ पाता है कि यह किस बारे में है। एक और कारण, multi-topic blog का DA (Domain Authority) तेजी से नहीं बढ़ता है।

Quality Content पब्लिश करें

Content is King


यदि आप अपने पोस्ट को गूगल सर्च इंजन में प्रथम स्थान पर देखना चाहते हैं, तो आपको सबसे पहले content की quality पर ध्यान देना होगा।

हमेशा unique और quality content लिखने का प्रयास करें। इसके अलावा, आपकी कंटेंट interesting और evergreen होनी चाहिए। यहाँ एक गाइड है – SEO Friendly Article Kaise Likhe

और एक बात जिस पर आपको ध्यान देने की आवश्यकता है, आपका आर्टिकल कम से कम 1000 शब्दों का होना चाहिए। क्योंकि छोटी कंटेंट की तुलना में बड़ी कंटेंट सर्च इंजन में बेहतर प्रदर्शन करती है।

SEO Friendly Article Kaise Likhe

लेकिन आर्टिकल की लंबाई बढ़ाने के लिए, अपने आर्टिकल में बेकार बातें न लिखें। किसी भी टॉपिक को स्पष्ट रूप से समझाएं और उसके बारे में पूरी जानकारी दें। यदि आप किसी टॉपिक को अधूरा लिखते हैं तो विजिटर आपकी साइट पर जाना पसंद नहीं करेंगे।

Catchy Title लिखें

टाइल आपके ब्लॉग पर CTR और User engagement बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

यदि आप एक शानदार आर्टिकल लिखते हैं, लेकिन आकर्षक टाइटल नहीं लिखते हैं, तो कोई भी आपके आर्टिकल पर क्लिक नहीं करेगा। क्योंकि 50% से 60% लोग पोस्ट का टाइटल देखकर आर्टिकल पर क्लिक करते हैं।

यदि आप शानदार कंटेंट के साथ एक आकर्षक टाइटल लिखते हैं, तो आपको निम्ननलिखित फायदे होंगे।

  • More Readers.
  • Incoming Links.
  • New Subscribers

तो, हमेशा अपने ब्लॉग पोस्ट के लिए एक Attractive और unique title लिखें।

यहां Quick Tips है एक अच्छी टाइटल कैसे लिखें:

  • पोस्ट का टाइटल छोटा रखें (60 अक्षर से कम)
  • अपना Main keyword Add करें।
  • अपने टाइटल में संख्या का उपयोग करें।
  • कब, क्यों और कैसे का उपयोग करें।
  • पोस्ट का टाइटल स्पष्ट लिखें।

अपने आर्टिकल में मीडिया का उपयोग करें

मीडिया आपकी कंटेंट की Quality को बढ़ाता है और आपकी कंटेंट को आकर्षक और उपयोगी बनाता है।

आसान शब्दों में कहें, तो एक Image 1000 शब्दों की व्याख्या कर सकती है।

यदि आप अपने ब्लॉग पर विजिटर को अधिक समय तक रोके रखना चाहते है, तो अपने कंटेंट में मीडिया का उपयोग करना न भूलें।

SEO Friendly Permalinks Structure का उपयोग करें

यदि आपका ब्लॉग वर्डप्रेस पर है, तो इसका डिफ़ॉल्ट Permalinks Structure SEO Friendly नहीं है। इसे SEO फ्रेंडली बनाने के लिए आपको Permalinks Structure में  post name ऑप्शन को चुनना होगा। आप इस आर्टिकल को पढ़ सकते है – SEO Ke Liye Best Permalink Structure in Hindi

SEO Friendly URL बनाने के लिए Quick Tips

  • अपने ब्लॉग पोस्ट URL को छोटा और आसान बनाएं।
  • अपना target keyword add करें।
  • अपने URL में अतिरिक्त शब्द न जोड़ें।

Meta Description को ऑप्टिमाइज़ करें

Meta Description आपके ब्लॉग पोस्ट का संक्षिप्त विवरण है जो सर्च रिजल्ट में टाइटल के नीचे दिखाई देता है।

Blogging Tips

Meta Description आपके ब्लॉग पर CTR बढ़ाने में मदद करते हैं। यह focus keyword के साथ 156 characters का होना चाहिए।

एक बात हमेशा याद रखें, मेटा विवरण में कीवर्ड स्टफिंग न करें। क्योंकि यह black hat SEO के अंतर्गत आता है।

अपनी Images को ऑप्टिमाइज़ करें

Google इमेज नहीं पढ़ सकता है। यह इमेज को क्रॉल करने के लिए ALT टैग का उपयोग करता है, इसलिए अपनी इमेज के लिए प्रॉपर ALT टैग उपयोग करें।


इसके अलावा, यदि आप अपने ब्लॉग पर बहुत सारी Images का उपयोग करते हैं, तो उन्हें resize और compress करें। यह आपकी इमेज साइज़ को कम करता है और लोडिंग speed में सुधार करता है। यहां एक गाइड है – Image Optimization Kaise Kare

अपनी ब्लॉग का SEO करें

SEO के बिना, आप अपनी कंटेंट को सर्च रिजल्ट में टॉप पर नहीं ले जा सकते हैं।

SEO वेबसाइट रैंकिंग को बेहतर करता है। SEO के दो प्रकार हैं:

  • on-Page SEO
  • off Page SEO

विभिन्न प्लेटफ़ॉर्म पर अपनी कंटेंट प्रमोट करें

ब्लॉग पोस्ट पब्लिश करने के बाद इसे प्रमोट करना बहुत महत्वपूर्ण है।

अक्सर, नए ब्लॉगर केवल कंटेंट writing पर ध्यान देते हैं। यह अच्छी बात है लेकिन उन्हें अपनी कंटेंट को भी प्रमोट करना चाहिए। यहाँ एक गाइड है – Blog Posts Publish karne ke baad use kaise promote kare

अपनी पोस्ट पब्लिश करने के बाद Different place पर प्रमोट करते हैं, तो लोग आपके ब्लॉग के बारे में जानेगे और अगर उन्हें आपकी कंटेंट पसंद आती है, तो वे आपके ब्लॉग रीडर भी बन सकते हैं।

आपका ब्लॉग डिज़ाइन

यह सबसे महत्वपूर्ण बात है क्योंकि यह आपके personality  को रिफ्लेक्ट करता है और विजिटर पर first impression डालता है। हमेशा एक Clean, responsive और lightweight थीम सेलेक्ट करें।


यदि आप थीम पर पैसा खर्च नहीं करना चाहते हैं, तो आप wordpress.org से मुफ्त थीम का उपयोग कर सकते हैं, जो responsive और premium look के साथ आते है।

अपनी ब्लॉग को फ़ास्ट करें

Google फ़ास्ट लोडिंग ब्लॉग को अधिक महत्व देता है। इसके अलावा, यदि आपकी ब्लॉग को लोड होने में अधिक समय लगता है, तो कोई भी आपकी ब्लॉग पर विजिट करना पसंद नहीं करेगा। वे तुरंत आपकी ब्लॉग से exit हो जायेंगे। इससे आपका bounce rate भी बढ़ जाएगा।

इसलिए, यदि आप Google में टॉप रैंकिंग चाहते हैं और विजिटर को better user experience देना चाहते हैं, तो अपनी ब्लॉग को फ़ास्ट बनाएं। यहाँ एक गाइड है – WordPress Website Ki Loading Speed Kaise Badhaye

Cache Plugin का उपयोग करें

Cache Plugin आपके ब्लॉग को फ़ास्ट बनाता है और आपके सर्वर पर लोड को कम करता है।

वर्डप्रेस के लिए बहुत सारे Cache Plugins उपलब्ध हैं। लेकिन मैं आपको W3 Total Cache उपयोग करने की सलाह दूंगा। इसके अल्टरनेटिव आप WP Super Cache का उपयोग कर सकते है।

CDN का उपयोग करें

CDN भी आपके ब्लॉग के परफॉरमेंस को बेहतर बनाता है।

CDN आपके ब्लॉग का cache version अपने सर्वर पर स्टोर करता है और users को उन सर्वरों के माध्यम से कंटेंट serve करता है जो Users के स्थान के सबसे करीब होता हैं।

मार्केट में बहुत सारी CDN कंपनियाँ हैं। वर्तमान में, मैं अपनी साइट पर CloudFlare का उपयोग करता हूं। यह एक बहुत ही पोपुलर CDN कंपनी है।

बेहतर प्रदर्शन के लिए Database को ऑप्टिमाइज़ करें

यदि आपका ब्लॉग बहुत पुराना है, तो जाहिर है कि इसमें अनावश्यक डेटा जैसे post revisions, spam comments, trash, transient options, orphaned meta data आदि हो सकते है। ये डेटा आपके Database size को बढ़ाते हैं।

अपने Database को ऑप्टिमाइज़ करके, आप इसके size को कम कर सकते हैं और Database efficiency में सुधार कर सकते हैं। परिणामस्वरूप, आपका ब्लॉग फ़ास्ट लोड होगा। यहाँ एक गाइड है – WordPress Database Optimize Kaise Kare

Keyword Research करें

Keyword Research SEO का एक अनिवार्य component है।

कीवर्ड रिसर्च आपको सर्च इंजन में बेहतर रैंक दिलाने में मदद करता है। और SEO friendly कंटेंट लिखने का यह पहला कदम है  ।

Keyword Research एक कठिन काम नहीं है। बहुत सारे excellent tool और website हैं जिनका उपयोग आप सबसे अच्छा कीवर्ड ढूंढने के लिए कर सकते हैं। लेकिन Google keyword planner सबसे अच्छा फ्री Keyword Research टूल है जो गूगल द्वारा डेवलप्ड है।

हमेशा अपनी कंटेंट के लिए low competition और high search keywords चुनें। यहाँ एक विस्तृत गाइड दिया गया है – Keyword Research Kaise Kare

Long Tail Keywords का उपयोग करें

Long Tail Keywords आपके ब्लॉग पर ऑर्गेनिक ट्रैफ़िक बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये बहुत targeted होते हैं।

लॉन्ग टेल कीवर्ड उपयोग करने के लाभ :

  • Less competition.
  • Better conversion rates.
  • Search results में अच्छी रैंक करते है।
  • सर्च इंजन से अधिक ट्रैफिक प्राप्त करने में मदद करता है।

यहाँ एक गाइड है – Long Tail Keywords Research Kaise Kare Aur Traffic Kaise Badhaye

Keyword Stuffing से बचे

कीवर्ड स्टफिंग आपकी कंटेंट को unnatural बनाता है और रीडर पर bad user experience बनाता है।

यदि सोचते है ब्लॉग पोस्ट में बहुत सारे कीवर्ड डालने से आपकी कंटेंट अच्छा रैंक करेगी, तो आप बिलकुल गलत है। यह रणनीति आपके ब्लॉग को penalty की ओर ले जाती है।

अपने कंटेंट में keyword density 1.5% – 2% रखें।

अपने Special Content को जितना संभव हो उतना लिंक करें

यदि आपने कोई unique research वाली आर्टिकल लिखी हैं, तो उसे अपनी अन्य कंटेंट में जितना संभव हो उतना लिंक करने की कोशिश करें।

इसके अलावा, अपने ब्लॉग के साइडबार में popular post widget भी add करें।

अपनी साइट से Bad Links को Remove करें

अपनी ब्लॉग की Link profile पर नजर रखें। यदि आपकी साइट पर bad links या toxic links की संख्या बहुत अधिक होगी, तो यह आपकी Domain Authority, ranking और traffic को बहुत अधिक प्रभावित करेगी।

Link profile पर नजर रखने के लिए आप SEMrushAhrefs या LinkPatrol टूल का उपयोग कर सकते है।

लेकिन कई ऐसे ब्लॉगर है जो इसपर ध्यान नही देते है और उनकी रैंक SERPs में दिनों दिन घटती जाती है। इसके अलावा उनकी DA पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। यहाँ एक गाइड है – Website Se Bad Backlinks Remove Kaise Kare

नियमित पोस्ट करें

यदि आप अपने ब्लॉग पर नियमित रूप से पोस्ट पब्लिश करते हैं, तो यह आपकी रैंकिंग और रीडर दोनों को बढ़ाता है। लेकिन आपकी कंटेंट जानकारीपूर्ण होनी चाहिए।

इसलिए, नियमित रूप से अपने ब्लॉग पर quality और unique पोस्ट पब्लिश करें, यह आपकी Google रैंकिंग को बेहतर बनाने में मदद करता है।

Internal links बनाएं

Internal linking SEO का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यदि आप इसे अपनी कंटेंट में सही ढंग से उपयोग करते हैं, तो यह आपकी कंटेंट quality को और बढ़ा देता है और विजिटर के लिए कंटेंट को और उपयोगी बनाता है। लेकिन गलत उपयोग से, आपका organic search traffic drop हो सकता है या Google आपके ब्लॉग को penalize कर सकता है।

Internal link सर्च इंजन और यूजर दोनों को कंटेंट के बारे में relevant information प्रदान करते हैं।

SSL Certificate (HTTPS) Install करें

SSL का मतलब Secure Socket Layer लेयर है। जब आप SSL certificate इनस्टॉल करते हैं, तो आपकी ब्लॉग यूजर के ब्राउज़र में हरे रंग के लॉक आइकन के साथ खुलेगी।

Top SEO Ranking Factors 2018

यदि आप एक ब्लॉगर हैं, तो free SSL certificate का उपयोग कर सकते हैं। कई कंपनियां हैं जो free SSL certificate प्रदान करती हैं। Google ने भी घोषणा की है कि HTTPS एक Ranking signal है।

High-Quality Backlinks बनाएं

Domain authority, Google ranking, और website traffic बढ़ाने के लिए Backlinks बहुत जरूरी हैं। आपके ब्लॉग पर जितने ज्यादा बैकलिंक्स होंगे, आपकी ब्लॉग सर्च इंजन में उतनी अच्छी रैंक करेगी।

लेकिन आप अपनी साइट के लिए bad या low-quality backlinks बनाते हैं, तो यह आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। यहां एक गाइड है – High Quality Backlinks Kaise Banaye Hindi

अपने ब्लॉग का DA बढ़ाएं

DA का मतलब Domain authority है। यह Moz द्वारा डेवलप्ड 1 से 100 के पैमाने पर बना एक मीट्रिक है। Higher domain authority sites SERPs में अच्छा रैंक करती है।

Domain authority बढ़ाने के लिए Quick Tips:

  • Quality content पब्लिश करें।
  • On-Page SEO – DA बढाने में Vital role निभाते है।
  • Internal Linking.
  • High-quality backlinks create करें।
  • Bad links को Disavow करें.
  • धैर्य रखें और अपने डोमेन को पुराना होने दें।

यहां एक विस्तृत गाइड दी गई है – Blog Ki Domain Authority Kaise Badhaye (16 Ultimate Guide)

अच्छे फ़ॉन्ट और रंग का उपयोग करें

अपनी ब्लॉग के लिए सही फ़ॉन्ट और रंग का उपयोग करें। ताकि रीडर को ब्लॉग पोस्ट पढ़ने में कोई समस्या न हो।

लेकिन बहुत से ऐसे ब्लॉगर हैं जो अपने ब्लॉग को बहुत रंगीन बनाते हैं।

रंगीन ब्लॉग देखने में अच्छे लगते हैं लेकिन पढ़ने के समय, विजिटर का ध्यान भटकाते हैं।

पैराग्राफ छोटे रखें

विजिटर बड़े पैराग्राफ के साथ कंटेंट पढ़ना पसंद नहीं करते हैं।

इसलिए पैराग्राफ को छोटा रखें। यह आपके कंटेंट को reader-friendly बनाता है।

आप देख सकते हैं कि मैंने इस आर्टिकल में पैराग्राफ के लिए 4 लाइनों का उपयोग किया है।

इसके अलावा, अपनी important लाइन के लिए bold और italic उपयोग करें। यह विजिटर का ध्यान आकर्षित करता है।

शेयर बटन का उपयोग करें

अपने ब्लॉग पोस्ट के लिए सोशल शेयर बटन का उपयोग करें। ताकि विजिटर आपके ब्लॉग पोस्ट को अपने पसंदीदा सोशल नेटवर्किंग साइटों पर आसानी और जल्दी से शेयर कर सकें। यहाँ एक गाइड है – WordPress Me Social Media Share Buttons Kaise Add Kare (4 Easy Ways)

केवल उपयोगी प्लगइन्स का उपयोग करें

प्लगइन्स ब्लॉग की कार्यक्षमता को बढ़ाते हैं। लेकिन अगर आप बहुत सारे प्लगइन्स का उपयोग करते हैं, तो आपका ब्लॉग slow हो सकता है। इसलिए, अपने ब्लॉग पर केवल उपयोगी प्लगइन्स इंस्टॉल करें।

इसके अलावा, यदि आपके ब्लॉग में Inactive plugins या थीम है, तो उन्हें डिलीट करें। कारण, वे security vulnerabilities पैदा कर सकते हैं।

सही होस्टिंग चुनें

मार्केट में कई होस्टिंग कंपनियां हैं जो फास्ट लोडिंग का वादा करती हैं लेकिन उनसे होस्टिंग खरीदने के बाद आपको लगेगा कि उन्होंने आपको धोखा दिया है।

कारण, आपका ब्लॉग अधिकतर समय डाउनटाइम में रहेगा और आपकी ब्लॉग बहुत धीरे-धीरे लोड होगी। यहाँ मैंने कुछ best web hostings लिस्टेड किया है जिनका आप उपयोग कर सकते हैं।

इसलिए सही वेब होस्टिंग पर इन्वेस्ट करना बहुत जरूरी है।

किसी भी वेब होस्टिंग की speed चेक करने के लिए, आप  Pickuphost का उपयोग कर सकते हैं।

Blogging Tips in Hindi

Fast Loading & SEO Friendly Theme का उपयोग करें

गर आप अपने ब्लॉग की ट्रैफ़िक और रैंकिंग को बूस्ट करना चाहते हैं, तो Fast Loading & SEO Friendly Theme का उपयोग करें।

सभी वर्डप्रेस थीम SEO फ्रेंडली नहीं हैं और उनकी कोडिंग भी अच्छी नहीं है। यदि आप गलत theme चुनते हैं, तो यह आपके पेज speed और रैंकिंग दोनों को प्रभावित करेगा।

आप Mythemshop, Themeforest और StudioPress से प्रीमियम थीम खरीद सकते हैं। लेकिन अगर आपका बजट कम है, तो आप फ्री थीम GeneratePress या Astra का उपयोग कर सकते है।

यहां मैंने best SEO Friendly WordPress Themes को लिस्टेड किया है, जो पूरी तरह से SEO optimized और well-coded हैं।

अपनी साइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाएं

Google mobile friendliness को ranking factor के रूप में उपयोग करता है।

यदि आपकी साइट mobile friendly नहीं है, तो Google mobile search के लिए आपकी साइट की रैंकिंग कम कर देगा और आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफ़िक प्राप्त करने का अवसर खो देंगे। यहाँ एक गाइड है – Website Mobile-Friendly Kaise Banaye

आपकी साइट mobile friendly है या नही इसे चेक करने के लिए आप गूगल द्वारा डेवलप्ड Mobile Testing Tool का उपयोग कर सकते है। आपकी साइट mobile friendly नही है, तो आपको अपनी साइट पर एक Responsive WordPress theme इनस्टॉल करने की आवश्यकता है।

उचित Heading Tags का उपयोग करें

हेडिंग टैग आपको एक readable blog post create करने में मदद करता है। मान लीजिए आपके पास एक ब्लॉग पोस्ट है जिसकी लंबाई 5000-6000 शब्द है, लेकिन appropriate heading tag का उपयोग नहीं किया है, तो विजिटर को पोस्ट पढ़ना मुश्किल होगा।

इसके अलावा, H1 टैग सर्च इंजन को यह समझने में मदद करता है कि आपका पेज किस बारे है और आपकी रैंकिंग को थोड़ा बूस्ट करता है।

कई वर्डप्रेस थीम हैं जो टाइटल के लिए H1 टैग का उपयोग नहीं करते हैं। यदि आप ऐसी थीम का उपयोग करते हैं, तो आपको अपने टाइटल के लिए H1 टैग का उपयोग करना चाहिए। कभी भी H1 टैग को एक से अधिक बार उपयोग न करें।

कंटेंट पब्लिश करने के बाद Social Media Sites पर शेयर करें

आज लगभग सभी यूजर सोशल मीडिया साइटों से जुड़े हुए हैं। तो अपनी पोस्ट को पब्लिश करने के बाद, इसे Facebook, Twitter, LinkedIn and Pinterest जैसी लोकप्रिय सोशल मीडिया साइटों पर शेयर करें। ये प्लेटफ़ॉर्म आपके ब्लॉग पर बहुत सारे ट्रैफ़िक प्राप्त करने में सहायता कर सकते हैं।

अपने पुराने आर्टिकल को अपडेट करें और फिर से सोशल मीडिया साइट पर शेयर करें

नए कीवर्ड और images के साथ अपने पुराने आर्टिकल को अपडेट करें। फिर उन्हें अपने नए रीडर और सोशल मीडिया साइट पर शेयर करें।

यदि आप एक वर्डप्रेस यूजर हैं तो automatic share के लिए Buffer या Revive Old Post प्लगइन का उपयोग कर सकते हैं। ये प्लगइन्स आपके पुराने पोस्ट को सोशल मीडिया साइट्स पर अपने आप शेयर करते हैं।

हमेशा Visitors के कमेंट का Reply करें

हमेशा Visitors के कमेंट का जवाब दें। यह आपके और विजिटर के बीच अच्छे संबंध बनाता है। और अगर उन्हें फिर से कोई समस्या होती है, तो वे आपकी साइट पर दुबारा विजिट करेंगे।

साथ ही, यदि आपके आर्टिकल पर बहुत सी कमेंट होगी, तो Google आपकी पोस्ट को उपयोगी मानकर सर्च रिजल्ट में बेहतर रैंक देगा।

यदि कोई spam comments सबमिट करता है, तो spam comments को डिलीट करें। यहाँ मैंने best WordPress antispam plugins की एक लिस्ट बनाई है जिसका उपयोग आप अपने ब्लॉग पर स्पैम कमेंट को हैंडल करने के लिए कर सकते हैं।

Category and Tag के लिए Noindex Set करें

Category और Tag के लिए Noindex सेट करें। क्यूंकि, वे सर्च इंजन में डुप्लिकेट कंटेंट का कारण बन सकते हैं। परिणामस्वरूप, आपके ट्रैफ़िक और रैंकिंग दोनों को कम किया जा सकता है। यहां तक ​​कि Google आपकी साइट को penalize भी कर सकता है। यहाँ एक गाइड है – WordPress Categories Aur Tags Ko Noindex Kaise Kare

Author Archives के लिए Noindex सेट करें

यदि आप एक single-author blog चला रहे हैं, तो Author Archives को disable रखें। क्योंकि Author Archives और homepage दोनों पर समान content होगी। यह आपके ब्लॉग पर डुप्लिकेट कंटेंट का कारण बन सकता है।

Affiliate Links और Untrusted Links के लिए Nofollow सेट करें

Affiliate Links और Untrusted Links आपकी साइट की रैंकिंग को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए, Affiliate Links और Untrusted Links लिंक के लिए rel = “nofollow” टैग सेट करें।

और इसके लिए आप Ultimate Nofollow प्लगइन का उपयोग कर सकते हैं। प्लगइन rel = “nofollow” टैग पर फुल कण्ट्रोल देता है। लेकिन यह Gutenberg  को सपोर्ट नहीं करता है।

इसके अलावा, यदि आप अपनी ब्लॉग की Affiliate Links मैनेज करने के लिए प्लगइन का उपयोग करते हैं, तो आप आसानी से अपने Affiliate Links के लिए No-Follow attribute सेट कर सकते हैं।

Free Stock Images का उपयोग करें

अपने आर्टिकल के लिए images समझदारी से सर्च करें।

यदि आपको अपने आर्टिकल के लिए images की आवश्यकता है, तो आप Google images का उपयोग नहीं कर सकते। वे कॉपीराइट हो सकते हैं और बाद में कॉपीराइट की समस्याएं पैदा कर सकते हैं।

आप FreeDigitalPhotosMorgueFilePixabay, Pexels का उपयोग कर सकते है जो मुफ्त स्टॉक इमेज पेश करती हैं।

Strong Password का इस्तेमाल करें

यदि आप अपनी साइट के लिए कमजोर पासवर्ड का उपयोग करते हैं, तो हैकर्स आपके वर्डप्रेस डैशबोर्ड को आसानी से Access कर सकते हैं और malware or malicious code इंस्टॉल कर सकते हैं।

WordPress में Malicious Code Detect करने के लिए Best Website Scanner

इसलिए, हमेशा एक मजबूत पासवर्ड का उपयोग करें। इसके अलावा, better WordPress security के लिए, पासवर्ड को कुछ दिनों में बदलते रहना चाहिए। यहाँ एक गाइड है – WordPress Site Ka Password Change Ya Reset Kaise Kare

मजबूत पासवर्ड के लिए uppercase, lowercase, special characters # $ – ‘^ & का उपयोग करें।

Username के लिए Admin का उपयोग न करें

यदि आप Username के लिए Admin का उपयोग करते हैं, तो इसे तुरंत बदल दें। हर कोई इस Username को जानता है और हैकर्स आसानी से ऐसे ब्लॉगों को हैक कर सकते हैं। यहां मैंने एक गाइड शेयर किया है – WordPress Username Kaise Change Kare

अपने ब्लॉग को Regularly बैकअप करें

किसी भी ब्लॉगर के लिए बैकअप सबसे महत्वपूर्ण कार्य है। हालांकि, जब आप ब्लॉग शुरू करते हैं, तो यह उतना महत्वपूर्ण नहीं होता है। लेकिन कई यूजर्स ऐसे हैं जो कभी इसकी परवाह नहीं करते।

यदि आप अपने ब्लॉग का बैकअप लेते हैं और आपके ब्लॉग में कुछ गलत है, तो बैकअप आपकी मदद करेंगे।

वर्डप्रेस ब्लॉग को बैकअप लेने के कई तरीके हैं। यहाँ एक गाइड है –  WordPress Blog को Full Backup कैसे करे

इसके अलावा, जब आप अपने ब्लॉग में कोई बड़ा Changes करते हैं, तो पहले ब्लॉग को पूरा बैकअप करें।

Blogging को अपना Passion बनाये

यह अंतिम टिप है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण blogging tips में से एक है। जुनून (Passion) के बिना, आप किसी भी व्यवसाय में सफल नहीं हो सकते।

यदि आप ब्लॉगिंग को अपना जुनून मानते हैं, तो आप आसानी से ब्लॉगिंग में सफलता हासिल कर सकते हैं।

सभी प्रो ब्लॉगर ब्लॉगिंग को अपना पैशन और बिजनेस मानते हैं। और इसलिए वे ब्लॉगिंग में इतने सफल हैं।

आखरी सोच

यहां मैंने नए bloggers के लिए best blogging tips and tricks बताया।

यदि आप एक नए ब्लॉगर हैं और अपने ब्लॉग को एक नई ऊंचाई पर ले जाना चाहते हैं, तो आप इन्हें अनदेखा नहीं कर सकते। विशेष रूप से, यह नए ब्लॉगर्स के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

छोटा सा निवेदन, अगर यह Blogging tips आपके लिए मददगार साबित हुई है, तो इसे शेयर करना न भूलें!

इसे भी पढ़ें:

  • SEO Kaise Kare [22 SEO Tips in Hindi]
  • Website Ki Traffic Kaise Badhaye
  • 17 Reasons आपकी Website Google में Rank क्यों नहीं कर रही है?
  • 43 Most Common WordPress Mistakes Jo Har New Blogger Karta Hai
  • (18 Reason) 90% Blogger Blogging Me Fail Kyu Ho Jate Hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *