पीएचडी (PhD) क्या है और कैसे करे ?


एक समय था जब पढ़ाई को लेकर लोगों में कोई चिंता नहीं थी लेकिन आज हर कोई पढ़ाई में दिलचस्पी रखता है। आज हर कोई अपने करियर को लेकर चिंतित है क्योंकि पढ़ाई के क्षेत्र में कॉम्पीटिशन इतना बढ़ गया है कि, विद्यार्थियों के लिए किसी भी क्षेत्र में करियर बनाना आसान नहीं रहा है। आज के टाइम सभी को एक अच्छी नौकरी चाहिए, जिससे वे अपना खर्चा चला सके साथ ही अपने भविष्य को उज्जवल बना सके। यही बात ध्यान में रखते हुए आज हम स्टूडेंट्स को PHD के बारे में बता रहे हैं। यह एक ऐसा डिग्री कोर्स है जिसे करके छात्र अपने करियर को बेहतर बना सकते हैं। आईये जानते हैं कि, पीएचडी क्या है, कैसे करे, पीएचडी की फुल फॉर्म क्या होती है, इसके लिए योग्यता क्या होना चाहिए, PHD fees, कितने साल का होता है, पीएचडी करने के बाद विद्यार्थी के पास करियर विकल्प क्या होते हैं आदि।

PhD kya hai or kaise kare

आज के समय में यह एक ऐसा कोर्स है जो bright future के लिए सबसे ज्यादा लोकप्रिय माना जाता है। आपको बता दें, अगर आप PHD की डिग्री हासिल कर लेते हैं तो आपके नाम के आगे Dr लग जाता है। आपने कई ऐसे लोगों को देखा होगा जिनके नाम के साथ डॉक्टर लगाया जाता है जोकि गर्व महसूस कराता है और समाज में भी हमें सम्मान मिलता है।

यदि आप भी चाहते हैं कि, आपके नाम के साथ भी doctor लग जाए तो आपको बहुत मेहनत करनी होगी तभी आप यह पद हासिल कर सकते हैं क्योंकि PHD degree course कम्पलीट करना आसान नहीं है। इसके लिए आप दिल से पढ़ाई करेंगे तभी सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

इस आर्टिकल के माध्यम से हम उन अभ्यर्थियों को पीएचडी के बारे में विस्तार से बता रहे है ताकि आपको सही मार्गदर्शन और पूरी जानकारी मिल सके।

विषय-सूची

  • पीएचडी क्या है? (What is PHD Course in Hindi)
  • पीएचडी कैसे करे ? (Hoe to do PHD Course in Hindi)
    • पीएचडी के लिए योग्यता (Qualification for PHD)
    • पीएचडी की फीस कितनी होती है? (PHD Fees)
    • पीएचडी की तैयारी कैसे करे? (How to Prepare for PhD in Hindi)
    • पीएचडी के बाद क्या करे? (What to do after PhD in Hindi) पीएचडी के बाद जॉब ऑप्शन
    • पीएचडी कोर्स करने के फायदे (Benefits of PhD in Hindi)
    • पीएचडी के बाद जॉब सैलरी (PhD Job Salary)
    • निष्कर्ष,

पीएचडी क्या है? (What is PHD Course in Hindi)

पीएचडी की फुल फॉर्म ‘doctor of philosophy’ होती है। डॉक्टर ऑफ फिलोसोफी को ही PHD कहा जाता है। यह डॉक्टर के फील्ड में एक उच्च स्तर का डिग्री कोर्स होता है जो 3 साल में कम्पलीट होता है। आप अपनी पसंद के सब्जेक्ट में यह कोर्स कर सकते हैं, यह डिग्री कोर्स करने के बाद आप उस विषय के क्षेत्र में एक्सपर्ट बन जाते हैं।

मगर आप पीएचडी उसी सब्जेक्ट में कर सकते हैं जिस सब्जेक्ट में आपने मास्टर डिग्री की हो, मतलब आप जिस विषय में 12वीं पास करते हैं उसी विषय में ग्रेजुएशन और मास्टर डिग्री पूरी करे। यह योग्यता होने पर ही आप पीएचडी के लिए एडमिशन ले सकते हैं।

यह डिग्री कोर्स उन विद्यार्थियों के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है जिन्हें किसी एक विषय में ज्यादा दिलचस्पी हो, और वे उस सब्जेक्ट में अच्छा ज्ञान रखते हो, उनके लिए पीएचडी बहुत अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है।

पीएचडी कैसे करे ? (Hoe to do PHD Course in Hindi)

यदि आप यह डिग्री कोर्स करना चाहते हैं तो आप 12वीं पास होना जरूरी है, यही क्या, कोई भी डिग्री कोर्स करने के लिए स्टूडेंट्स का 12th पास होना बहुत जरूरी होता है। अगर आपने 12 कक्षा क्लियर कर ली है तभी आप पीएचडी कर सकते हैं। आगे की प्रक्रिया में आपको 12वीं के बाद ग्रेजुएशन करनी होगी, उसके बाद मास्टर डिग्री, यह दोनों डिग्री एक सब्जेक्ट में करे। यदि आपने 55% अंकों से ग्रेजुएशन और मास्टर डिग्री पूरी की है तभी आप पीएचडी कर सकते हैं अन्यथा नहीं।

अगर आपने 12वीं के बाद ग्रेजुएशन, मास्टर डिग्री पूरी कर ली है तो आपको Phd करने के लिए USC/net exam पास करना होगा, यह परीक्षा क्लियर करने के बाद आप पीएचडी प्रवेश परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। यदि आप पीएचडी में एडमिशन पाना चाहते है तो आपको इसका entrance exam पास करना होगा, उसके बाद आप PHD की पढ़ाई शुरू कर सकते हैं।

पीएचडी करने के लिए क्या क्या योग्यता होनी चाहिए यह आप निचे बताये स्टेप की मदद से और आसानी से समझ सकते हैं।

पीएचडी के लिए योग्यता (Qualification for PHD)

  • 12वीं पास
  • ग्रेजुएशन डिग्री
  • मास्टर डिग्री 55% अंकों के साथ
  • 12th और ग्रेजुएशन डिग्री सब्जेक्ट एक होना चाहिए।

पीएचडी की फीस कितनी होती है? (PHD Fees)

पीएचडी की फीस अलग-अलग कॉलेज में भिन्न होती है। यदि आप सरकारी कॉलेज से पीएचडी करते है तो फीस कम होती है। प्राइवेट कॉलेज में सरकारी कॉलेज के मुकाबले फीस ज्यादा होती है। साथ ही, इस डिग्री कोर्स की फीस अलग-अलग जाति के विद्यार्थियों के लिए अलग-अलग होती है। इसलिए हम यह कह सकते हैं कि, पीएचडी की फीस निर्भारित नहीं होती है।

पीएचडी की तैयारी कैसे करे? (How to Prepare for PhD in Hindi)

आप बिना मेहनत के पीएचडी नहीं कर सकते, इसके लिए आपको लगन से पढ़ाई करनी होगी। यहाँ हम पीएचडी की तैयारी करने के कुछ टिप्स बता रहे हैं जिनसे आपको मदद मिलेगी।

  • ऐसे विद्यार्थियों से बात करें जिन्होंने पीएचडी डिग्री कोर्स किया हो और वे सफल रहे।
  • पीएचडी परीक्षा के गत वर्ष के प्रश्न पत्रों की मदद लें, इससे आपको पीएचडी का सिलेबस और यह जानने को मिलेगा कि, PhD exam में किस टाइप के प्रश्न आते हैं।
  • अपने सब्जेक्ट पर ज्यादा ध्यान दें। उससे संबंधित current affairs पढ़ें।

इन सुझाओं को ध्यान में रखते हुए आपको पीएचडी की तैयारी करने में थोड़ी आसानी होगी।

पीएचडी के बाद क्या करे? (What to do after PhD in Hindi) पीएचडी के बाद जॉब ऑप्शन

यह कोर्स करने के बाद आपके पास करियर बनाने के बहुत से ऑप्शन होंगे जो आपके भविष्य को सुनहरा बना सकते हैं जैसे,

  • यह कोर्स करने के बाद यूनिवर्सिटी प्रोफेसर की जॉब कर सकते हैं। पीएचडी करने के बाद इस नौकरी की सबसे ज्यादा डिमांड होती है।
  • यदि आपने chemistry सब्जेक्ट में पीएचडी की है तो आप मेडिकल रिसर्च सेंटर और लैबोरेट्री एनालिसिस में नौकरी कर सकते हैं।
  • पीएचडी करने के बाद आप किसी सरकारी विभाग में सलाहकार (Advisory) के पद पर काम कर सकते हैं।
  • इसके अलावा, आप शिक्षा के क्षेत्र में करियर बना सकते हैं।

इसके अलावा, पीएचडी करने के बाद आपकी जॉब उस विषय पर निर्भर करती है जिस विषय में आपने पीएचडी की होगी, उस सब्जेक्ट से रिलेटेड फील्ड में जॉब के क्या-क्या विकल्प होंगे आप जान सकते हैं।

इसलिए, हम कह सकते हैं कि पीएचडी डिग्री कोर्स करने वाले लोगों के लिए बहुत से क्षेत्रों में व्यवसाय के अवसर होते हैं। यह डिग्री कोर्स स्टूडेंट्स के करियर को बेहतर बना सकता है।

पीएचडी कोर्स करने के फायदे (Benefits of PhD in Hindi)

  • आप जिस फील्ड में पीएचडी करते हैं उस क्षेत्र में एक्सपर्ट बन जाते हैं।
  • यह एक उच्च (highest) डिग्री कोर्स होता है। जिसे करने के बाद आपके पास जॉब के चांसेस ज्यादा होते हैं।
  • यह डिग्री प्राप्त करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में प्रोफेसर बन सकते हैं।
  • पीएचडी करने के बाद आपके नाम के आगे डॉ लग जाता है जो आपको हर जगह सम्मान दिलाता है, जिससे आप गर्व महसूस करते हैं।
  • जो यह डिग्री हासिल कर लेता है उसे जानकारी के निर्माता (Information creator) भी कहा जाता है।

पीएचडी के बाद जॉब सैलरी (PhD Job Salary)

पीएचडी करने के बाद आपको जो जॉब मिलेगी उसकी सैलरी कितनी होगी यह आपके जॉब पद पर निर्भर करता है, क्योंकि यह कोर्स हर कोई अलग-अलग फील्ड में करता है तो जाहिर है उन्हें जॉब भी अलग और सैलरी भी भिन्न मिलती है। हालांकि, औसतन पीएचडी जॉब सैलरी 25 से 40 हजार तक या इससे भी ज्यादा हो सकती है जोकि बेहद अच्छी और सम्मानजनक होती है।

निष्कर्ष,

तो, दोस्तों, इस आर्टिकल में हमने आपको पीएचडी के बारे में बताया जैसे, PhD क्या है, PhD Course कैसे करे, इसके लिए योग्यता, पढ़ाई, फीस, करियर विकल्प आदि। साथ ही हमने आपको पीएचडी डिग्री कोर्स करने के फायदे और इसके बाद मिलने वाली जॉब की सैलरी के बारे भी में बताया।

हम उम्मीद करते हैं यह आर्टिकल अंत तक पढ़ने के बाद पीएचडी से संबंधित आपको काफी जानकारी मिली होगी। यदि अभी भी आपके मन में इससे related कोई सवाल या सुझाव है तो हमें कमेंट के जरिए बता सकते हैं।

यह भी पढ़ें:

  • एमसीए कोर्स (MCA Course) क्या है और कैसे करे?

यदि आपको PhD course कैसे करे? की जानकारी उपयोगी और अच्छी लगे तो सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी इसके बारे में पता चल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *