एसडीओ ऑफिसर (SDO Officer) कैसे बने?

SDO एक सरकारी पोस्ट होती है जिसे उप मंडल अधिकारी (Sub Divisional Officer) के नाम से जाना जाता है। यह एक विभागीय स्तर (divisional level) का ऑफिसर होता है। इस आर्टिकल में हम आपके साथ SDO कैसे बने? एसडीओ ऑफिसर बनने के लिए क्या करे? इसकी पूरी जानकारी शेयर कर रहे हैं। अगर आप भी SDO बनना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपके लिए महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। आईये जानते  हैं, SDO kaise bane? SDO Officer kaise bante hai.

SDO officer kaise bane

लगभग हर एक सरकारी विभाग में SDO ऑफिसर की नियुक्ति की जाती है। यह एक प्रभागीय स्तर का अधिकारी है, जो विभिन्न प्रकार के कार्य करता है। हमारे देश में लगभग हर जिले को छोटे-छोटे खंडों में विभाजित किया गया है और इन सभी के लिए प्रत्येक सरकारी विभाग द्वारा अधिकारियों की नियुक्ति की जाती है। एसडीओ अधिकारियों का काम संभाग स्तर पर सरकारी कार्यों का सही ढंग से संचालन करना है।

हजारों लोग एसडीओ ऑफिसर बनने का सपना देखते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही लोगों का सपना पूरा हो पाता है। क्योंकि आज सरकारी नौकरी में कम्पटीशन बहुत ज्यादा बढ़ गया है। इसलिए अब सिर्फ वही लोग कोई सरकार नौकरी जैसे SDO officer का पद हासिल कर सकते हैं जो बहुत ज्यादा इंटेलीजेंट और पूरी जानकारी रखता हो।

अगर आप भी एसडीओ ऑफिस बनना चाहते है तो आपको पहले इसके बारे में पूरी जानकारी हासिल करनी होगी और कड़ी मेहनत भी। इस पोस्ट में आपको एसडीओ के बारे में संपूर्ण जानकारी मिल जाएगी जैसे SDO ऑफिसर कैसे बने? SDO Officer बनने के लिए क्या करे।

What is SDO in hindi, full form of SDO, SDO kaise bane, SDO officer kaise bane? SDO ऑफिसर बनने के लिए पढ़ाई कैसे करें, एसडीओ ऑफिसर की तैयारी कैसे करे, इसकी भर्ती प्रक्रिया, SDO syllabus, SDO exam etc.

विषय-सूची

  • एसडीओ क्या है (What Is SDO Officer)
  • एसडीओ ऑफिसर कैसे बने? (How to Become SDO Officer In Hindi)
    • एसडीओ बनने के लिए योग्यता (Qualification for SDO)
      • इंटरव्यू
    • SDO Officer का काम क्या होता है?
    • एसडीओ ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है? (SDO Salary)
    • निष्कर्ष,

एसडीओ क्या है (What Is SDO Officer)

एसडीओ एक सरकारी पद है, जो देश के हर राज्य के लगभग हर विभाग में है, जैसे- बिजली विभाग, पुलिस विभाग, सिंचाई विभाग, आदि। देश के सभी राज्यों में प्रत्येक शहर और जिले में एक एसडीओ नियुक्त किया जाता है, जो सरकारी प्रणाली के सुचारू संचालन के लिए जिम्मेदार है। एसडीओ कार्यालय के अधिकारी राज्य सरकार के अधीन काम करते हैं। इन अधिकारियों की नियुक्ति और चयन भी राज्य सरकार द्वारा किया जाता है।

एसडीओ की फुल फॉर्म क्या होती है? (full form of SDO in Hindi and English)

  • SDO Full Form In English = Sub Divisional Officer
  • SDO Full Form In Hindi = अनुविभागीय अधिकारी

एसडीओ ऑफिसर कैसे बने? (How to Become SDO Officer In Hindi)

एसडीओ ऑफिसर का चयन सरकार द्वारा दो तरह से किया जाता है। सबसे पहले, आपको विभाग के प्रचार से एसडीओ से निचे एक ऑफिसर के रूप में चुना जाता है, इस विभाग के छोटे अधिकारी होते हैं, इनकी ट्रेनिंग ली जाती है, किसी काम के माध्यम से। जो अच्छा काम करते हैं उन्हें एसडीओ ऑफिसर बना दिया जाता है, जबकि दूसरी और एसडीओ ऑफिसर की डायरेक्ट भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाता है। एसडीओ एग्जाम पास करके आप सीधे SDO अफसर बन सकते हैं।

जैसा कि, हमने ऊपर बताया, एसडीओ अधिकारी राज्य सरकार के अधीन एक सरकारी कार्यालय है, इसलिए प्रत्येक राज्य की सरकार द्वारा भी एसडीओ चुना जाता है। आईये जानते है, किसी भी राज्य की सरकार द्वारा एसडीओ ऑफिसर का चयन कैसे किया जाता है।

राज्य सरकार द्वारा SDO का चयन PSC यानी लोक सेवा आयोग परीक्षा के माध्यम से किया जाता है। लगभग हर राज्य में, हर साल लोक सेवा आयोग द्वारा एसडीओ के चयन के लिए परीक्षा आयोजित की जाती है और इच्छुक उम्मीदवार इस परीक्षा फॉर्म को भरकर परीक्षा दे सकते हैं। इस परीक्षा में बैठने के लिए उम्मीदवार के पास संबंधित विभाग के क्षेत्र में किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन डिग्री होनी चाहिए।

एसडीओ बनने के लिए योग्यता (Qualification for SDO)

SDO Officer यानि उप मंडल अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवार ग्रेजुएशन पास होना जरूरी है। तभी आप एसडीओ के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसके अलावा आपके पास SDO officer बनने के लिए क्या-क्या योग्यता होनी चाहिए, निचे बताया गया है।

  • एसडीओ उम्मीदवार की उम्र 21 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • OBS के लिए 3 वर्ष, SC/ST श्रेणी के उम्मीदवार के लिए 5 वर्ष की आयु में छुट है।
  • ग्रेजुएशन: (डिग्री कोर्स) एसडीओ एग्जाम में बैठने के लिए उम्मीदवार के पास अपने विभाग से संबंधित क्षेत्र में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।

अगर उम्मीदवार के पास ये सब योग्यताएं है तो वह SDO exam में बैठ सकता है। एसडीओ की परीक्षा 2 चरणों में होती है जो निम्न प्रकार से है।

  • प्रारंभिक परीक्षा (preliminary exam)
  • मुख्य परीक्षा (Main Exam)

प्रारंभिक परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा एसडीओ ऑफिसर बनने के लिए दी जाने वाली पहली परीक्षा है, जिसमें अभ्यर्थी से सामान्य ज्ञान, गणित तर्क आदि से संबंधित अधिकतर वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं। इस एग्जाम को क्लियर करने वाले उम्मीदवार मुख्य परीक्षा यानि एसडीओ एग्जाम के दुसरे चरण में बैठ सकता है।

मुख्य परीक्षा

Main exam एसडीओ परीक्षा का दूसरा चरण है, जिसमें उम्मीदवार को पहले चरण में उत्तीर्ण होने के बाद ही बुलाया जाता है। इस पेपर में उम्मीदवार को लिखित परीक्षा देनी होती है और यह एग्जाम प्रारंभिक परीक्षा की तुलना में थोड़ा कठिन होता है।

इंटरव्यू

मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले उम्मीदवारों को अंतिम चरण के लिए बुलाया जाता है। जिसमें condidate का इंटरव्यू लिया जाता है। साक्षात्कार में प्रदर्शन के आधार पर प्रतियोगी को चुना जाता है। जो इंटरव्यू में पास हो जाता है वो एसडीओ ऑफिसर के रूप में सेलेक्ट कर लिया जाता है।

SDO Officer का काम क्या होता है?

SDO officer अपने विभाग का प्रमुख अधिकारी होता है जिसमें इसके विभाग के अन्य सभी छोटे अधिकारी अपने काम के लिए एसडीओ के प्रति जवाबदेह होते हैं और तहसीलदारों और विभिन्न अधिकारियों की सहायता से अपने क्षेत्र में सुधार कार्य की देखरेख भी करते हैं।

इसके अतिरिक्त, एसडीओ जनता की शिकायतों को भी सुनता है। पूरे जिले में एक डीएम की जो भूमिका होती है, वही भूमिका उनके विभाग के एसडीओ की होती है।

एसडीओ ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है? (SDO Salary)

आम तौर पर एक एसडीओ का मासिक वेतन भत्ते और ग्रेड से अलग लगभग 23,640 रूपये है जोकि, एक एसडीओ अधिकारी को शुरूआत में दिया जाता है। अगर एसडीओ की सभी ग्रेड और भत्ते शामिल करके एक SDO officer salary की बात की जाए तो प्रारंभिक स्तर पर एसडीओ का वेतन 51,378 रुपये प्रति माह हो सकता है, जबकि वरिष्ठ डाक अधिकारी (senior post officer’s) का वेतन इससे अधिक होता है।

इतने पैसे, सरकारी नौकरी और साथ में पॉवर, कम नहीं है। हालांकि उनके लिए तो कम ही है जो सिर्फ पैसे के पीछे भागते हैं। इसलिए SDO या कोई भी सरकारी जॉब उन लोगों के लिए है जो अपने देश की सेवा करना चाहते हैं ना की उनके लिए जो पैसे के लिए कोई भी रास्ता निकल पड़े। आप एसडीओ ऑफिसर भी तभी बन सकते हैं जब आपके अंदर देश की सेवा करने की चाहत हो और मेहनत करने का जूनून।

निष्कर्ष,

इस आर्टिकल में हमने आपके साथ SDO कैसे बने? SDO officer कैसे बनते है के बारे में पूरी जानकारी साझा की। हम उम्मीद करते हैं अब आपको एसडीओ अधिकारी के बारे में सही और पूरी जानकारी मिल गयी होगी। अगर आप एसडीओ ऑफिसर बनना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी।

अब आपको SDO officer के बारे में सबकुछ सही से समझ आ गया होगा। अगर अभी भी आपको एसडीओ अफसर से संबंधित कोई जानकारी चाहिए या आपका कोई सवाल है तो हमसे कमेंट में पूछ सकते हैं।

यदि आप उन विद्यार्थियों में से एक है जो आईएएस ऑफिसर बनना चाहते है और आईएएस अधिकारी के बारे में जानकारी खोज रहे है तो निचे वाली पोस्ट में जाएँ।

यह भी पढ़ें:

  • आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने?

अगर आपको SDO officer kaise bane की जानकारी उपयोगी लगे तो सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें ताकि कोई और भी SDO के बारे में जान सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *