आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) कैसे बने?

जिंदगी में सभी कुछ करना और बनना चाहते हैं। कोई डॉक्टर, मास्टर तो कोई इंजीनियर बनना चाहते हैं। वहीँ कुछ लोग आईएएस बनने का सपना देखते हैं। लेकिन क्या आपको पता है IAS एग्जाम सबसे हार्ड परीक्षा मानी जाती है। IAS officer भारत में सरकारी नौकरी का सबसे बड़ा पद होता है। इससे बड़ा पद मंत्री का होता है। एक आईएएस ऑफिसर का पद हासिल करना आसान काम नहीं है, इसलिए आपके अंदर जूनून और कड़ी मेहनत करने का जज्बा होना चाहिए। आज आईएएस के हजारों उम्मीदवार है, बहुत से विद्यार्थी आईएस बनकर देश की सेवा करना चाहते हैं लेकिन उन्हें सही से पता नहीं होता है कि, IAS कैसे बने? आईएएस की तैयारी कैसे करे, आईएएस के लिए पढ़ाई कौन-सी और कैसे करे? आदि। इसलिए हम इस आर्टिकल में IAS kaise bane? IAS Officer kaise bante hai? की पूरी जानकारी शेयर कर रहे हैं ताकि जो स्टूडेंट आईएस अधिकारी बनने की चाहत रखते हैं उन्हें आईएएस के बारे में पूरी जानकारी मिल सके।

IAS Officer kaise bane

आईएएस भारतीय नौकरशाही में सबसे बड़ी पोस्ट्स में से एक माना जाता है। IAS Exam पास करने के लिए हर साल लाखों उम्मीदवार कोशिश करते हैं लेकिन उनमें से कुछ अभ्यर्थी ही सफल हो पाते हैं। कड़ी मेहनत करने वालों और जुनूनी लोगों के लिए आईएएस तो क्या कोई भी चीज मुश्किल नहीं है। आईएस परीक्षा में फ़ैल होने का सबसे बड़ा कारण यह है कि, लोग बिना कोई तैयारी के, जानकारी लिए बिना ही आईएस का पेपर क्लियर करने के लिए बैठ जाते है, और फ़ैल हो जाते हैं, फिर कहते हैं “भाई IAS exam तो बहुत हार्ड है।

इसलिए आईएस बनने के लिए आपको सबसे पहले इसके बारे में पूरी जानकारी हासिल करनी है उसके बाद ही आईएस बनने के लिए कदम बढ़ाना है तभी ही आप आईएएस अधिकारी बन सकते हैं। बहुत से लोगों का कहना है कि, आईएएस की नौकरी हासिल करने के लिए कम से कम 2 से 3 साल की तैयारी जरूरी है। ऐसा नहीं नहीं, यह सिर्फ विद्यार्थी की सोच और क्षमता पर निर्भर करता है। अगर आप सही तरीके से पढ़ाई, मेहनत करोगे तो आप 3 साल तो क्या 6 महीने में ही सक्सेस पा सकते है।

इस आर्टिकल में हम आपके साथ आईएएस के बारे में संपूर्ण जानकारी साझा कर रहे है जैसे:- आईएएस ऑफिसर कैसे बने? इसकी भर्ती प्रक्रिया, आईएएस के लिए पढ़ाई कैसे करे? आईएएस की परीक्षा की तैयारी कैसे करें? आदि जो भी आईएस की जरूरतें हैं। जो विद्यार्थी IAS officer बनना चाहते हैं उनके लिए यह आर्टिकल बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा।

विषय-सूची

    • आईएएस क्या है? (What is IAS Officer In Hindi)
  • आईएएस की तैयारी कैसे करें (How to Prepare For IAS)
  • आईएएस ऑफिसर कैसे बने? (How to Become IAS Officer In Hindi)
    • प्रारंभिक परीक्षा  (Preliminary Exam)
    • मुख्य परीक्षा (Main Exam)
    • Interview
    • आईएएस ऑफिसर का काम क्या होता है? (IAS Officer Work)
    • आईएएस परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करे? (How to Apply for IAS Exam)
    • निष्कर्ष,

आईएएस क्या है? (What is IAS Officer In Hindi)

इस भारत देश में सबसे सबसे पावरफुल नौकरी है। IAS या भारतीय प्रशासनिक सेवा तीन अखिल भारतीय सेवाओं में से एक है। अन्य दो भारतीय पुलिस सेवा IPS (Indian Police Service) और IFS (Indian Forest Service) हैं। आईएएस परीक्षा भारत में सबसे हार्ड मानी जाती और आईएएस का पद सबसे प्रतिष्ठित भी माना जाता है। ब्रिटिश काल के दौरान IAS (Indian Administrative Service) को ICS (Indian/Imperial Civil Service) के नाम से भी जाना जाता था। स्वतंत्रता के बाद ICS को IAS में बदल दिया गया। आईएस की परीक्षा प्रत्येक वर्ष UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) के द्वारा आयोजित कराई जाती है। यह भारत की एक केंद्रीय संस्था है।

आईएएस की फुल फॉर्म क्या होती है? (What is the full form of IPS?)

  • IAS full Form in Enligsh = Indian Administrative Service
  • IAS full Form i n Hindi – = भारतीय प्रशासनिक सेवा

आईएएस की तैयारी कैसे करें (How to Prepare For IAS)

IAS अधिकारी बनने के लिए, आपको UPSC द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा को पास करना होगा। इस एग्जाम की तैयारी करने के लिए सबसे पहले आईएस पाठ्यक्रम (syllabus) के बारे में पता करें। अगर आपको ias syllabus के बारे में पता नहीं होगा तो आप आईएएस एग्जाम की तैयारी कैसे कर पाएंगे।

आईये अब आईएएस के लिए पात्रता जाने लेते हैं। (IAS Eligibility)

आईएएस के लिए योग्यता – Qualification for IAS

IAS परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। तभी आप आईएस एग्जाम के लिए आवेदन कर सकते हैं अन्यथा नहीं।

आईएएस के लिए उम्र – Age limit for IAS

आईएएस उम्मीदवार की आयु 21 वर्ष से अधिक होनी चाहिए और सामान्य उम्मीदवारों के लिए ऊपरी आयु सीमा 32 वर्ष है। हालांकि, आईएस के लिए age limit हर वर्ग के हिसाब से अलग-अलग निर्धारित की गयी है। साथ ही, कई वर्ग के उम्मीदवारों को कुछ वर्ष की छुट भी दी जाती है जो इस प्रकार है।

  • General Category – 32 वर्ष
  • OBC – 35 वर्ष (3 वर्ष की छुट)
  • SC/ST – 37 वर्ष (5 वर्ष की छुट)
  • EWS – 32 वर्ष (कोई छुट नहीं)
  • विकलांग – 42 वर्ष (10 वर्ष की छुट)

आईएएस ऑफिसर कैसे बने? (How to Become IAS Officer In Hindi)

अगर आप आईएएस अधिकारी बनना चाहते है तो सबसे पहले आप 12वीं कक्षा पास करनी होगी। उसके बाद आपको ग्रेजुएशन (डिग्री कोर्स) करना होगा। उसके बाद आपको यूपीएससी की परीक्षा क्लियर करनी होगी। आगे आप विस्तार से जान सकते हैं।

1. 12वीं कक्षा पास करें

यदि आप आईएएस अधिकारी बनना चाहते है तो सबसे पहले 12th पास करें किसी भी सब्जेक्ट से चाहे फिर वो science, commerce हो या arts.

2. ग्रेजुएशन करे

आईएएस ऑफिसर बनने के लिए उमीदवार के पास ग्रेजुएशन डिग्री होना बहुत जरूरी है क्योंकि  ग्रेजुएशन करने के बाद ही आप यूपीएससी एग्जाम के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसलिए, 12वीं क्लास पास करने के बाद किसी भी सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन/डिग्री कोर्स कम्पलीट करे।

3. UPSC परीक्षा के लिए आवेदन करें

ग्रेजुएशन कम्पलीट करने के बाद यूपीएससी की परीक्षा के लिए अप्लाई करे। यूपीएससी एग्जाम के लिए आवेदन करने के बाद आपको 3 एग्जाम को क्लियर करना होगा जो इस प्रकार है।

  • Preliminary exam (प्रारंभिक परीक्षा)
  • Main exam (मुख्य परीक्षा)
  • Interview (साक्षात्कार)

प्रारंभिक परीक्षा  (Preliminary Exam)

Preliminary exam आईएस का पहला स्टेप होता है और यह परीक्षा दो चरणों में क्लियर होती है,

  • सामान्य क्षमता परीक्षण (General ability test)
  • सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services test)

यह दोनों एग्जाम क्वालिफिकेशन के रूप में 200 -200 अंकों के होते हैं। इसे पास करने के बाद ही उम्मीदवार IAS main exam में शामिल हो सकता है।

IAS Syllabus For Paper: 1

पहले पेपर में 200 अंकों के ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाते है जिन्हें हल करने के लिए 2 घंटें का टाइम दिया जाता है। इस पेपर में आने वाले सवालों का सोर्स कुछ इस प्रकार है।

  • Current Affairs – राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय की वर्तमान घटनाएं
  • General Science – सामान्य विज्ञान
  • History Of India – भारत का इतिहास
  • Environment – जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता, पर्यावरण पारिस्थितिकी।
  • Indian Polity and Governance – संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज आदि।
  • Geography – अधिकारों के मुद्दे, भारत और दुनिया के आर्थिक व भौतिक भूगोल।
  • Social Development & Economic – सामाजिक क्षेत्र की पहल, सभी विकास, समावेश, जनसांख्यिकी और गरीबी।

IAS Syllabus for Paper: 2

Preliminary exam के दुसरे चरण में होने वाले पेपर में भी आपसे 200 Marks के Objective question पूछे जाते हैं और उनका जवाब देने के लिए आपको 2 घंटें का समय दिया जाता है। इस पेपर में दिए जाने वाले सवालों के प्रकार।

  • Problem Solving Or Decision Making – समस्या को हल करना और निर्णय लेना
  • General Mental Ability – सामान्य मानसिक योग्यता
  • Comprehension – समझ
  • Data Interpretation – डेटा व्याख्या
  •  Analytical And Logical Reasoning – विश्लेषणात्मक क्षमता और तार्किक तर्क
  • Interpersonal Skills Including Communication Skills – संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

यह आईएएस एग्जाम का दूसरा स्टेप होता है। जिसेमें सिर्फ वही उम्मीदवार बैठ सकते है जिसने प्रारंभिक परीक्षा को क्लियर किया हो। मुख्य परीक्षा को पास करने के लिए उम्मीदवार को 2 से 3 महीने का समय दिया जाता है। इस परीक्षा में अलग-अलग शब्द सीमा वाले वर्णात्मक प्रश्न पूछे जाते हैं जिन्हें आपको खुद से हल करना होगा। बस इस पेपर में पास होने के लिए अच्छी लेखन शैली की जरूरत होती है।

मुख्य परीक्षा के प्रश्नपत्र:-

  • प्रश्नपत्र 1: निबंध
  • प्रश्नपत्र 2: सामान्य अध्ययन 1 (संस्कृति भारतीय विरासत, विश्व का इतिहास और भूगोल)
  • प्रश्नपत्र 3: सामान्य अध्ययन 2 (संविधान, प्रशासन, राजनीति, सामाजिकन्याय तथा अंतराष्ट्रीय संबंध)
  • प्रश्नपत्र 4: सामान्य अध्ययन 3 (आर्थिक विकास,जैव विविधता,पर्यावरण, प्रौधोगिकी,आपदा प्रबंधन)
  • प्रश्नपत्र 5: सामान्य अध्ययन 4 (अभिवर्ती, सत्यनिष्ठा)
  • प्रश्नपत्र 6: वैकल्पिक विषय – पेपर 1
  • प्रश्नपत्र 7: वैकल्पिक विषय – पेपर 2

प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा में सफल होने के बाद उम्मीदवार का इंटरव्यू लिया जाता है।

Interview

Preliminary exam and main exam कम्पलीट होने के बाद आपको पर्सनल इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है जो 30 से 45 का होता है। अगर आप इंटरव्यू में पास हो जाते है तो समझो आप आईएएस ऑफिसर बन गए।

इस तरह आप एक आईएएस अधिकारी बन सकते हैं। मगर याद रहे आईएएस एग्जाम भारत में सरकारी नौकरी के लिए सबसे मुश्किल एग्जाम  माना जाता है।

आईएएस ऑफिसर का काम क्या होता है? (IAS Officer Work)

आईएएस अधिकारी विभिन्न देशों और अंतराष्ट्रीय मंचो पर भारत सरकार का प्रतिनिधित्व करते है। यह सरकार के प्रतिनिधि के रूप में विभिन्न संधियों एवं समझौतों पर हस्ताक्षर करने के लिए Authorized होते है। IAS Officer बनने के बाद IAS के कार्य संसद में बनने वाले कानूनों को अपने क्षेत्र या शहरों में लागू करवाते है तथा इसके साथ नये कानून व नीतियों बनाने में भी अपना योगदान देते है।

  • यह जिले स्तर के सभी कार्यों के लिए सीधे तौर पर उत्तरदायी होते है, चाहे वह विकास कार्य हो या कानून व्यवस्था या फिर आपदा प्रबंधन सभी के लिए भूमिका निभाते है।
  • जब ये जिला स्तर पर कार्य  करते है तो इन्हें जिलाधिकारी, कलेक्टर आदि नामों से जाना जाता है।
  • इन पर कानून व्यवस्था को बनाए रखने का उत्तरदायी तो होता ही है, साथ ही सामान्य और राजस्व प्रशासन में भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।
  • एक आईएएस अधिकारी पर नीतियों के सफल कार्य विकास का दारोमदार तो होता ही है, साथ ही नीति निर्माण में भी इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।
  • समय के साथ इन्हें अलग-अलग विभागों में भी कार्य करना होता है जो अपनी प्रारंभिक में बिल्कुल भिन्न होता है।
  • सचिवालयों में ये उप सचिव, अवर सचिव, प्रधान सचिव इत्यादि के दायित्व निभाते है।
  • जिला मजिस्ट्रेट या कलेक्टर जिले का मुख्य कार्यकारी, प्रशासनिक और राजस्व अधिकारी होता है। वह जिले में कार्य कर रही विभिन्न सरकारी एजेंसीयों के मध्म आवश्यक समन्वय की स्थापना करता है।
  • जिला मजिस्ट्रेट या कलेक्टर के कार्य एवं दायित्वों को कलेक्टर, जिला मजिस्ट्रेट, डिप्टी कमिश्रर, मुख्य प्रोटोकॉल अधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी और निर्वाचनअधिकारी के कार्यों और दायित्वों के रूप में वर्गीकरण किया जा सकता है।

आईएएस परीक्षा के लिए आवेदन कैसे करे? (How to Apply for IAS Exam)

आईएएस एग्जाम में आवेदन करने के ली ये आप यूपीएससी की वेबसाइट (https://www.upsc.gov.in/) पर आईएएस भर्ती प्रक्रिया के बारे में जान सकते है और और किसी भी ऑनलाइन पोर्टल से आवेदन कर सकते है।

सबसे पहले official website upsc.gov.in पर विजिट करें। उसके बाद UPSC Civil Services Examination लिंक पर क्लिक करे, उसके बाद आपके सामने एक टेबल खुलेगी जिसमें आप अपना व्यक्तिगत विवरण जैसे नाम, लिंग, श्रेणी, राष्ट्रियता, अपनी शैक्षिक योग्यता, वर्तमान पता, फ़ोटो आईडी प्रमाण विवरण और सिविल सेवा मुख्य परीक्षा विवरण भरें।

यह भी ध्यान रखें कि, परीक्षा के केंद्र, वैकल्पिक विषय, परीक्षा का माध्यम, सिविल सेवा के लिए अनिवार्य भारतीय भाषा मुख्य परीक्षा और भारतीय वन सेवा मुख्य परीक्षा के विशिष्ट विवरण जैसे परीक्षा केंद्र और वैकल्पिक विषय के लिए विशिष्ट विवरण में कोई परिवर्तन नहीं होने दिया जाएगा। इसलिए आपको इन विवरणों को भरते समय सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। उम्मीदवार को यह पुष्टि करने की आवश्यकता होगी कि क्या वे आयु में छुट का दावा कर रहे या नहीं।

अगर आपको लगता है कि, आपने सारी जानकारी सही से भर दी है तो “I agree” पर क्लिक करे। I agree पर क्लिक करने के बाद पंजीकरण संख्या वाला एक पेज ओपन होगा, पंजीकरण संख्या नोट कर ले या उस पेज का प्रिंट निकलवा ले।

निष्कर्ष,

इस आर्टिकल में हमने आपको आईएएस अधिकारी कैसे बने? के बारे में बताया। हम उम्मीद करते है इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको IAS officer के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी। जैसे IAS kaise bane? IAS officer kaise bante hai? इसकी भर्ती प्रक्रिया, एग्जाम, योग्यता आदि।

अगर आपको आईएएस के बारे में कोई और जानकारी चाहिए या इससे रिलेटेड आपका कोई सवाल है तो हमसे कमेंट में पूछ सकते हैं। यदि आपको IPS कैसे बने? या सीबीआई ऑफिसर कैसे बने? की जानकारी चाहिए तो निचे वाली पोस्ट पढ़ें।

यह भी पढ़ें:

  • आईपीएस ऑफिसर (IPS Officer) कैसे बने?
  • सीबीआई ऑफिसर (CBI Officer) कैसे बने?

अगर आपको IAS Officer kaise bane? की जानकारी उपयोगी लगे तो सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें ताकि किसी और को भी आईएएस के बारे में जानकारी मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *